नोट खुल्ला कराने के चक्कर में चमकी पेंटर की किस्मत, इनाम में जीती 12 करोड़ की रकम

केरल के रहने वाले सदानंदन ने खुल्ले करने के लिए लॉटरी (Lottery) का टिकट खरीदा और 12 करोड़ का जैकपॉट हाथ लग गया. कोरोना काल में आर्थिक तंगी से जूझ रहे सदानंदन के लिए इस बात पर यकीन कर पाना मुश्किल था कि उन्होंने इनाम में 12 करोड़ की तगड़ी रकम जीत ली.

नोट खुल्ला कराने के चक्कर में चमकी पेंटर की किस्मत, इनाम में जीती 12 करोड़ की रकम

अब ये खबर देशभर में काफी सुर्खियां बटोर रही है.

नई दिल्ली:

ऊपर वाला जब भी देता है तो छप्पर फाड़ के देता है. यकीनन ये कहावत तो आपने जरूर सुनी होगी. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे शख्स की कहानी बता रहे हैं, जिस पर ये कहावत एकदम सटीक बैठती है. दरअसल केरल (Kerala) के 68 वर्षीय एक पेंटर यूं तो बड़ी मुफलिसी में अपनी जिंदगी काट रहे थे. लेकिन उन्हें इस बात का अंदाजा कहां था कि उनकी किस्मत ऐसी चमकेगी कि हर कोई देखता रह जाएगा.  पेंटर (Panter) का काम करने वाले इस शख्स की किस्मत कुछ ही मिनटों में चमक गई और वो करोड़पति बन गया. 

एक रिपोर्ट के मुताबिक केरल के रहने वाले सदानंदन ने खुल्ले करने के लिए लॉटरी (Lottery) का टिकट खरीदा और 12 करोड़ का जैकपॉट हाथ लग गया. कोरोना काल में आर्थिक तंगी से जूझ रहे सदानंदन के लिए इस बात पर यकीन कर पाना मुश्किल था कि उन्होंने इनाम में 12 करोड़ की तगड़ी रकम जीत ली. कुदायमपदी के रहने वाले पेंटर सदानंदन ने रविवार की सुबह 300 रुपये में लॉटरी का एक टिकट (lottery ticket) खरीदा था. वो सुबह-सुबह घर से सामान खरीदने के लिए निकले थे और खुल्ले पैसे नहीं होने के कारण उन्होंने लॉटरी का टिकट खरीद लिया. 

ये भी पढ़ें: शख्स ने महिला को ट्रेन के सामने दिया धक्का, खुशकिस्मती से बची जान...देखें वीडियो

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसके बाद जो हुआ उस पर यकीन करना थोड़ी मुश्किल है मगर सच को नकारा थोड़ी ही न जा सकता है. पैसे खुल्ले कराने के चक्कर में खऱीदे गए टिकट (Lottery) ने कुछ ही घंटों में सदानंदन की तकदीर बदल डाली. यह टिकट उन्‍होंने लॉटरी का ड्रा निकलने से कुछ ही घंटे पहले ही खरीदा और कुछ ही घंटों बाद सदानंदन करोड़पति बन गए. जब सदानंदन से पूछा गया कि आप इस पैसे का क्या करेंगे, तो सदानंदन ने कहा कि वह अपने बच्चों की देखभाल में इस पैसे का सही इस्तेमाल करेंगे. अब सदानंदन की किस्मत की चर्चा हर तरफ हो रही है.