'पूर्वी लद्दाख और लेह को छोड़ J&K न जाएं' : US की अपने नागरिकों के लिए ट्रैवल एडवाइजरी

अमेरिका ने अपने नागरिकों से भारत की यात्रा पर पुनर्विचार करने और COVID-19, अपराध और आतंकवाद के मद्देनजर ज्यादा सावधान रहने के लिए कहा है.

'पूर्वी लद्दाख और लेह को छोड़ J&K न जाएं' : US की अपने नागरिकों के लिए ट्रैवल एडवाइजरी

भारत जाने वाले अपने नागरिकों के लिए अमेरिका ने अपडेट की ट्रैवल एडवाइजरी. (फाइल फोटो)

वॉशिंगटन:

अमेरिका ने भारत यात्रा करने वाले अपने नागरिकों के लिए लेवल 2 की ट्रेवल एडवाइजरी जारी की है और नागरिकों से भारत की यात्रा पर पुनर्विचार करने और COVID-19, अपराध और आतंकवाद के मद्देनजर ज्यादा सावधान रहने के लिए कहा है. भारत के लिए सोमवार को अमेरिकी विदेश विभाग ने एडवाइजरी जारी की जिसमें अमेरिकियों से आग्रह किया गया था कि वे आतंकवाद और नागरिक अशांति के कारण जम्मू-कश्मीर की यात्रा न करें, और सशस्त्र संघर्ष की संभावना के कारण भारत-पाकिस्तान सीमा से 10 किलोमीटर के दायरे में भी दाखिल न हों. एडवाइजरी के अनुसार, "जम्मू कश्मीर में पूर्वी लद्दाख क्षेत्र और इसकी राजधानी लेह के अलावा इस राज्य में कहीं भी ट्रैवल नहीं करें. आतंकवाद और नागरिक अशांति के कारण यह खतरे भरा हो सकता है. वहीं भारत-पाकिस्तान बॉर्डर से 10 किलोमीटर के दायरे से भी दूर रहें."

Coronavirus India Updates: देश में कोविड-19 के 10,197 नए मामले

एडवाइजरी में कहा गया है, "भारतीय अधिकारियों की रिपोर्ट में बलात्कार को भारत में सबसे तेजी से बढ़ते अपराधों में से एक माना गया है." इसमें आगे लिखा गया है कि आतंकवादी बिना किसी चेतावनी के हमला कर सकते हैं, उनका निशाना ज्यादातर पर्यटन स्थल, परिवहन केंद्र, बाजार/शॉपिंग मॉल, और सरकारी सुविधाएं होते हैं. 

मांडविया ने पूर्ण टीकाकरण करा चुके परिवारों को अधिसूचित करने के लिए स्टिकर देने का सुझाव दिया

एडवाइजरी के मुताबिक, अमेरिकी सरकार के पास पश्चिमी पश्चिम बंगाल के जरिए पूर्वी महाराष्ट्र और उत्तरी तेलंगाना से ग्रामीण इलाकों में अमेरिकी नागरिकों को आपातकालीन सेवाएं देने की सीमित क्षमता है, क्योंकि अमेरिकी सरकार के कर्मचारियों को इन क्षेत्रों की यात्रा करने के लिए विशेष प्राधिकार प्राप्त करने की जरूरत होती है.

डब्ल्यूएचओ ने कोवैक्सीन को आपातकालीन उपयोग सूची में डाला


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com