भारतीय-अमेरिकी विवेक रामास्वामी ने चौथी रिपब्लिकन प्रेसिडेंशियल डिबेट में प्रतिद्वंद्वियों को घेरा

विवेक रामास्वामी ने कॉर्पोरेट मनी देने वालों की इच्छा पर काम करने के लिए हेली पर हमला किया और कहा कि वह संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत के रूप में पद छोड़ने के बाद बोइंग के बोर्ड में शामिल हो गईं और "हिलेरी क्लिंटन की तरह" पेड भाषण दिया.

भारतीय-अमेरिकी विवेक रामास्वामी ने चौथी रिपब्लिकन प्रेसिडेंशियल डिबेट में प्रतिद्वंद्वियों को घेरा

चौथी बहस में अग्रणी उम्मीदवार विवेक रामास्वामी और क्रिस क्रिस्टी के बीच तीखी नोकझोंक देखी गई

अमेरिका में राष्‍ट्रपति पद की दौड़ दिलचस्‍प होती जा रही है. चौथी रिपब्लिकन राष्ट्रपति पद की बहस में चार उम्मीदवार कड़ी चयन प्रक्रिया के माध्यम से पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में स्थान सुरक्षित करने के लिए एक-दूसरे के खिलाफ बहस के लिए तैयार हैं. भारतीय-अमेरिकी उद्यमी विवेक रामास्वामी, दक्षिण कैरोलिना की पूर्व गवर्नर निक्की हेली, फ्लोरिडा के गवर्नर रॉन डेसेंटिस और न्यू जर्सी के पूर्व गवर्नर क्रिस क्रिस्टी आमने-सामने हैं.

भारतीय-अमेरिकी विवेक रामास्वामी और रॉन डेसेंटिस चौथे राष्ट्रपति पद की बहस का नेतृत्व कर रहे हैं. रामास्वामी बहस में केवल 30 मिनट बोलने के समय के मामले में आगे हैं. यह बहस न्यूज नेशन द्वारा टस्कालोसा, अलबामा में आयोजित की गई है. सुबह 7:44 (IST) से रॉन डेसेंटिस और विवेक रामास्वामी के बीच एक करीबी मुकाबला चला. रॉन के पास भी बोलने का समय लगभग समान ही था. किसी उम्मीदवार की क्षमता को आंकने के लिए बोलने का समय एकमात्र माप नहीं है. हालांकि, अधिक बोलने का समय और ठोस तर्क मतदान प्रक्रिया के दौरान उम्मीदवार के पक्ष में जनता की राय बनाने में मदद कर सकते हैं.

निक्की हेली ने कॉर्पोरेट मनी स्वीकार करने के अपने फैसले का बचाव किया और चौथे रिपब्लिकन राष्ट्रपति पद की बहस के दौरान अपने प्रतिद्वंद्वियों के शीर्ष लक्ष्य में बाधा उत्‍पन्‍न करती नजर आ रही हैं. रिपब्लिकन बहस की शुरुआत निक्की हेली के खिलाफ आरोपों के ढेर के साथ हुई, जिसमें रॉन डेसेंटिस ने हेली पर हमला करते हुए कहा, "वह कभी भी हथियार डाल देती हैं... जब भी वामपंथी उन पर हमलावर होते हैं" सीएनएन ने रिपोर्ट में कहा कि वह एकमात्र उम्मीदवार हैं, जिन्होंने डेमोक्रेट के खिलाफ काम किया है. निक्की हेली ने आरोपों का जवाब देते हुए कहा, ''वह उनके ट्रैक रिकॉर्ड के बारे में झूठ बोल रहे हैं."

विवेक रामास्वामी ने कॉर्पोरेट मनी देने वालों की इच्छा पर काम करने के लिए हेली पर हमला किया और कहा कि वह संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत के रूप में पद छोड़ने के बाद बोइंग के बोर्ड में शामिल हो गईं और "हिलेरी क्लिंटन की तरह" भुगतान भाषण दिया.

वहीं, चौथी बहस में अग्रणी उम्मीदवार विवेक रामास्वामी और क्रिस क्रिस्टी के बीच तीखी नोकझोंक देखी गई. पूर्व गवर्नर ने रामास्वामी पर यूक्रेन युद्ध में अपना रुख बदलने का आरोप लगाया. उन्‍होंने कहा कि यूक्रेन में युद्ध को सुलझाने की उनकी योजना रूस को यूक्रेन में कब्‍जाए सभी क्षेत्र देने की थी. भारतीय-अमेरिकी उद्यमी ने कहा कि यह वह प्रस्ताव नहीं है, जो उन्होंने प्रस्तावित किया है.

क्रिस्‍टी ने जवाब में कहा, "आप हर बहस में ऐसा करते हैं. आप स्टंप पर जाते हैं और कुछ कहते हैं, हम सभी इसे वीडियो पर देखते हैं... हम बहस के मंच पर आपका सामना करते हैं, आप कहते हैं कि आपने यह नहीं कहा... और फिर आप पीछे हट जाते हैं."

क्रिस क्रिस्टी ने क्षेत्र में चल रहे युद्ध में गाजा में अमेरिकी सेना भेजने पर उनके रुख पर अपने विरोधियों से भी सवाल किया और कहा कि वह अमेरिकी बंधकों को बचाने के लिए "बिल्कुल" अमेरिकी सेना भेजेंगे और सवाल का सीधे जवाब नहीं देने के लिए रॉन डेसेंटिस की आलोचना की. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये भी पढ़ें :- "मैंने कुछ भी गलत नहीं कहा...": ममता बनर्जी पर किये "ठुमका कमेंट" पर NDTV से गिरिराज सिंह