अगला वायरस और भी घातक और संक्रामक होगा, ऑक्सफोर्ड के वैक्सीन निर्माताओं ने आगाह किया

वैज्ञानिक प्रोफेसर सारा गिल्बर्ट ने आगाह किया है कि मानव जाति को चपेट में लेने वाला कोई अगला वायरस अधिक घातक तथा अधिक संक्रामक हो सकता है.

अगला वायरस और भी घातक और संक्रामक होगा, ऑक्सफोर्ड के वैक्सीन निर्माताओं ने आगाह किया

ओमिक्रॉन वैरिएंट के बाद ब्रिटेन में 50 हजार के करीब मामले रोज सामने आ रहे हैं

लंदन :

सारी दुनिया में जहां आज कोरोना वायरस (coronavirus) के खिलाफ संघर्ष जारी है, वही अब वैज्ञानिको ने आने वाले समय में एक और बड़े खतरे की चेतावनी दी है. उनका कहना है कि  मानव जाति के लिये अगला वायरस और भी ज्यादा घातक और संक्रामक हो सकता है. कोविड रोधी टीके ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनेका Oxford/AstraZeneca  के निर्माण में मुख्य भूमिका निभाने वाली लंदन की वैज्ञानिक प्रोफेसर सारा गिल्बर्ट ने आगाह किया है कि मानव जाति को चपेट में लेने वाला कोई अगला वायरस अधिक घातक तथा अधिक संक्रामक हो सकता है. उनका कहना है महामारी नियंत्रण में हुई प्रगति को व्यर्थ होने से रोकने के लिए और अधिक धन तथा तैयारियों की जरूरत है.   

ब्रिटेन में ‘ओमीक्रोन' के नये मामले सामने आए, ‘डेल्टा' स्वरूप के मामले ज्यादा

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय (Oxford University) के जेनर संस्थान में टीका विज्ञान की प्रोफेसर सारा गिल्बर्ट ने कहा कि महामारी नियंत्रण में हुई प्रगति को व्यर्थ होने से रोकने के लिए और अधिक धन तथा तैयारियों की आवश्यकता है. गिल्बर्ट को टीका विकसित करने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका के लिए महारानी एलिजाबेथ द्वितीय द्वारा विशेष रूप से सम्मानित किया गया था.

वैज्ञानिक ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन' के खिलाफ टीके कम प्रभावी हो सकते हैं, लेकिन उल्लेख किया कि संक्रमण और हल्की बीमारी के संबंध में सुरक्षा कम होने का मतलब यह नहीं है कि गंभीर बीमारी और मृत्यु के खिलाफ भी सुरक्षा कम हो जाएगी. गिल्बर्ट ने कहा, "यह आखिरी बार नहीं है जब कोई वायरस हमारे जीवन और हमारी आजीविका के लिए खतरा बना है. सच्चाई यह है कि अगला कोई वायरस और भी बुरा हो सकता है. यह अधिक संक्रामक, या अधिक घातक, या दोनों हो सकता है."

ब्रिटेन ने कोविड के नये उपचार को दी मंजूरी, ओमिक्रॉन के खिलाफ हो सकता है कारगर

कोविड-19 से पहले, गिल्बर्ट ने मलेरिया और इन्फ्लुएंजा के एंटीजन का उपयोग करते हुए 10 साल से अधिक समय तक टीकों पर काम किया. 59 वर्षीय विशेषज्ञ बीबीसी के 44वें रिचर्ड डिम्बलबी व्याख्यान में बोल रही थीं. इस वार्षिक व्याख्यान का नाम ब्रिटिश पत्रकार और प्रसारक रिचर्ड डिम्बलबी के नाम पर रखा गया है.

ब्रिटेन में रविवार को ‘ओमीक्रोन' से जुड़े 86 नए मामले सामने आए जिससे देश में इस स्वरूप से जुड़े मामलों की संख्या 246 हो गई है. इस बीच, देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 43,992 और इस महामारी से मौत के 54 नए मामले दर्ज किए गए हैं.

लंदन में हर 30 में से एक को है कोरोना वायरस, हालात ठीक नहीं: मेयर सादिक खान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)