विज्ञापन
Story ProgressBack

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए तैयार: क्रेमलिन

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पेसकोव ने शुक्रवार को कहा कि रूस और यूक्रेन के बीच मार्च 2022 में हुए शांति समझौते का मसौदा काम कर सकता है.

Read Time: 3 mins
रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए तैयार: क्रेमलिन
पुतिन ने कहा कि मॉस्को बातचीत फिर से शुरू करने के पक्ष में है.

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए तैयार हैं. बातचीत का आधार 2022 का निरस्त शांति समझौता हो सकता है. क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने ये बात कही है. बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको के साथ बैठक में पुतिन ने कहा कि मॉस्को बातचीत फिर से शुरू करने के पक्ष में है, लेकिन बातचीत का मकसद किसी भी ऐसी योजना को थोपना नहीं होना चाहिए जिसका वास्तविकता से कोई लेना-देना नहीं है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पेसकोव ने शुक्रवार को कहा कि रूस और यूक्रेन के बीच मार्च 2022 में हुए शांति समझौते का मसौदा काम कर सकता है, हालांकि उसके बाद से कई बदलाव हुए हैं. उन्होंने कहा कि क्रेमलिन को नहीं लगता कि यूक्रेन रूस के साथ बातचीत के लिए तैयार है.

बता दें हाल ही में अमेरिका ने रूस से जेपोरिजिया न्यूक्लियर प्लांट(Zaporizhzhia Nuclear Power Plant) से सेना हटाने का आह्वान किया था. अमेरिकी विदेश विभाग की नियमित ब्रीफिंग के दौरान प्रवक्ता मैथ्यू मिलर ने कहा था कि अमेरिका संयंत्र पर 'ड्रोन हमले' की रिपोर्ट से अवगत हैं और वहां की स्थितियों पर नजर रख रहे हैं. जिसमें संयुक्त राष्ट्र की अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (IAEA) की आधिकारिक रिपोर्टिंग भी शामिल है. मिलर ने कहा था यूरोप के सबसे बड़े संयंत्र पर कब्जा करके रूस एक बहुत ही खतरनाक खेल खेल रहा है." 

दरअसल रूस ने रविवार को दावा किया था कि यूक्रेन ने जेपोरिजिया न्यूक्लियर प्लांट पर ड्रोन से हमला किया है. मास्को कंट्रोल्ड मैनेजमेंट ऑफ़ प्लांट (Moscow-Controlled Management Of The Plant) की ओर से जारी बयान में कहा गया था कि यूक्रेनी सशस्त्र बलों ने जेपोरिजिया न्यूक्लियर प्लांट (ZNPP) की छठी बिजली इकाई के गुंबद पर हमला किया. रेडियोएक्टिव रिलीज नहीं हुआ. हालांकि रिएक्टर का कंटेनमेंट सिस्टम कमजोर होने की आशंका जताई थी. यूरोप के सबसे बड़े जेपोरिजिया परमाणु संयंत्र पर रूसी सेना ने साल 2022 से कब्जा कर रखा है. 

ये भी पढ़ें- UN विशेषज्ञों ने हिंदू, ईसाई महिलाओं की सुरक्षा को लेकर पाकिस्तान की आलोचना की

Video : Uttar Pradesh Politics: उन्नाओ सीट पर BJP सांसद साक्षी महाराज बनाम समाजवादी पार्टी से अनु टंडन

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
अमेरिका और भारत की EVM में क्या है फर्क, क्यों बिल्कुल सेफ हमारे वोट, समझिए पूरी बात
रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए तैयार: क्रेमलिन
हक मांगा तो मिले आंसू, खुद को कश्मीरियों का हमदर्द बताने वाले पाकिस्तान का POK में असली चेहरा देखिए
Next Article
हक मांगा तो मिले आंसू, खुद को कश्मीरियों का हमदर्द बताने वाले पाकिस्तान का POK में असली चेहरा देखिए
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;