चीन ने कहा, कभी भी भारत और पाकिस्तान को परमाणु देशों के रूप में मान्यता नहीं दी

ट्रंप और किम जोंग-उन के बीच वियतनाम में हुए असफल शिखर सम्मेलन के बाद उत्तर कोरिया को इस प्रकार का दर्जा देने से इनकार किया

चीन ने कहा, कभी भी भारत और पाकिस्तान को परमाणु देशों के रूप में मान्यता नहीं दी

प्रतीकात्मक फोटो.

बीजिंग:

चीन ने शुक्रवार को कहा कि उसने भारत और पाकिस्तान को परमाणु शक्तियों के रूप में कभी भी मान्यता नहीं दी है. इसके साथ ही चीन ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन के बीच वियतनाम में हुए असफल शिखर सम्मेलन के बाद उत्तर कोरिया को इस प्रकार का दर्जा देने से इनकार किया.


चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने यहां एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा, “चीन ने कभी भी भारत और पाकिस्तान को परमाणु देशों के रूप में मान्यता नहीं दी है. इस संबंध में हमारे रूख में कोई बदलाव नहीं आया है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वह इस सवाल का जवाब दे रहे थे कि चीन क्या उत्तर कोरिया को भारत और पाकिस्तान जैसे परमाणु देश के रूप में मान्यता देगा. चीन इस आधार पर 48-सदस्यीय परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में भारत के प्रवेश में बाधा डालता रहा है कि भारत ने परमाणु अप्रसार संधि पर हस्ताक्षर नहीं किए हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)