तालिबान के साथ काबुल एयरपोर्ट पर काम पर लौटी अफगान पुलिस

रविवार को एएफपी के संवाददाता ने एयरपोर्ट पर बार्डर पुलिस के सदस्‍यों को एयरपोर्ट की मुख्‍य बिल्डिंग के अलावा कई चेकप्‍वाइंट पर तैनात देखा.

तालिबान के साथ काबुल एयरपोर्ट पर काम पर लौटी अफगान पुलिस

अफगानिस्‍तान पर तालिबान के कब्‍जे के बाद पहली बार है जब अफगान पुलिस काम पर लौटी है

काबुल :

Afghanistan crisis:अफगान पुलिस (Afghan police) फिर काबुल एयरपोर्ट पर काम पर लौट आई है. तालिबान (Taliban) सुरक्षाकर्मियों के साथ अफगान पुलिस चेकप्‍वाइंट पर तैनात है.अफगानिस्‍तान पर तालिबानियों के कब्‍जे के बाद पहली बार है जब अफगान पुलिस काम पर लौटी है. पिछले माह जब तालिबान ने राजधानी काबुल पर कब्‍जा किया था तो पुलिसवालों ने इस डर से अपनी पोस्‍ट छोड़ दी कि पता नहीं, तालिबानी उनका क्‍या हश्र करेंगे.  दो अधिकारियों ने बताया है कि तालिबान कमांडर्स के कॉल के बाद वे  शनिवार को अपने काम पर लौट आए हैं.

रविवार को एएफपी के संवाददाता ने एयरपोर्ट पर बार्डर पुलिस के सदस्‍यों को एयरपोर्ट की मुख्‍य बिल्डिंग के अलावा कई चेकप्‍वाइंट पर तैनात देखा. पुलिस फोर्स के एक सदस्‍य ने नाम उजागर न करने की शर्त पर बताया, 'मैं दो सप्‍ताह से अधिक पहले घर भेजे जाने के बाद कल काम पर लौटा हूं. मेरे पास तालिबान के सीनियर कमांडरका फोन आया था, जिसने मुझे काम पर लौटने को कहा. ' इसने कहा, 'कल का दिन अच्‍छा था, मैं फिर से काम करके खुश हूं. ' तालिबान ने कहा है कि सेना, पुलिस और अन्‍य सुरक्षा एजेंसियों सहित पिछली सरकार में काम करने वाले सभी लोगों को उसने माफी दे दी है. गौरतलब है कि 30 अगस्‍त को अमेरिकी सैनिकों की अफगानिस्‍तान से वापसी के साथ ही एक लाख से अधिक लोगों की मुल्‍क से 'निकासी' के दौरान काबुल एयरपोर्ट को काफी नुकसान पहुंचा था. 


इस बीच, अफगानिस्तान की सत्ता में तालिबान के काबिज होने के बाद से ही नई व्यवस्थाओं पर काम चालू हो गया है. अफगानी महिलाओं और बच्चों के अधिकारों, जिसमें शिक्षा भी शामिल है, को लेकर लगातार चिंता बना हुई है. इस बीच, अफगानिस्तान में कट्टर इस्लामिक पाठ्यक्रम लागू करने की कोशिश में तालिबान ने रविवार को कहा कि शरिया इस्लामिक कानूनों (Sharia Islamic laws) की अवहेलना करने वाले विश्वविद्यालय के विषयों को उच्च शिक्षा से हटाया जाएगा. टोलो न्यूज के मुताबिक, कार्यवाहक उच्च शिक्षा मंत्री शेख अब्दुल बाकी हक्कानी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "हर विषय जो इस्लामिक कानूनों के खिलाफ है उन्हें हटाया जाएगा." हक्कानी स्पष्ट किया है कि लड़के और लड़कियों की साथ में चलाने वाली क्लास स्वीकार्य नहीं है और पाठ्यक्रम में कुछ बदलाव लाया जाएगा. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* भारत में पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 केसों में 6.8 फीसदी कमी
* सीएम योगी का ट्वीट- नौकरी नीलाम करेंगे तो घर नीलाम कर देंगे- यूजर्स बोले- पहले दे तो दीजिए
* Video: प्रेम संबंध और घर से भागने पर युवती के परिजनों ने हथौड़े से की युवक की पिटाई



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)