ITR E-Filing 2.0 : इनकम टैक्स का नया पोर्टल शुरू, आपको मिलीं ये नई सुविधाएं, जरूर देखें

New ITR Portal : 7 जून, 2020 से इस नए ई-फाइलिंग पोर्टल को लॉन्च कर दिया गया है. पहले वेबसाइट एड्रेस incometaxindiaefiling.gov.in था, जो अब बदलकर incometax.gov.in हो गया है.

ITR E-Filing 2.0 : इनकम टैक्स का नया पोर्टल शुरू, आपको मिलीं ये नई सुविधाएं, जरूर देखें

ITR e-filing Portal : आईटीआर फाइलिंग के लिए नया पोर्टल लॉन्च.

नई दिल्ली:

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने सोमवार की रात 8.45 पर अपनी नई इनकम टैक्स रिटर्न के लिए नई वेबसाइट लॉन्च कर दी. इनकम टैक्स फाइलिंग की पुरानी वेबसाइट पिछले 6 दिनों से बंद थी, यूजर्स इसको एक्सेस नहीं कर सकते थे और अब 7 जून, 2020 से इस नए ई-फाइलिंग पोर्टल को लॉन्च कर दिया गया है. पहले वेबसाइट एड्रेस incometaxindiaefiling.gov.in था, जो अब बदलकर incometax.gov.in हो गया है.

नई वेबसाइट का लुक काफी नीट और क्लीन है. इसका कलर पैलेट नीला और सफेद रखा गया है. इसमें ऊपर के बार में Individual/HUf, Company, Tax Professionals & Others, Downloads और Help का टैब है. इसके नीचे नए पोर्टल का एक गाइडेड टूर दिया गया है. वहीं, प्रोफाइल अपडेट करने, शिकायतें दर्ज कराने और आईटीआर भरने के लिए एक पहले से भरा हुआ फॉर्म प्रोवाइड कराया गया है. 

4ncpfnr

इसके अलावा सर्विसेज सेक्शन में आईटीआर को ई-वेरिफाई, पैन से आधार लिंक करने, पैन-आधार की लिंकिंग के बारे में जानकारी लेने, ई-पे टैक्स, ई-फाइलिंग से भरे गए रिटर्न का स्टेटस ट्रैक करने, पैन वेरिफाई करने, और TAN की जानकारी लेने की सुविधा दी गई है.

टैक्सपेयर्स के लिए क्या होंगी सुविधाएं

- कई तरीकों से कर सकेंगे पेमेंट: Income Tax 2.0 पोर्टल की सबसे अच्छी बात है कि इसमें  कई नए पेमेंट मेथड ऐड किए गए हैं. टैक्सपेयर वेबसाइट पर नेट बैंकिंग, यूपीईआई, क्रेडिट कार्ड, RTGS और NEFT से पेमेंट कर सकेंगे, पैसे सीधे उनके अकाउंट से कट जाएंगे.

- जल्दी मिलेगा रिफंड : नई साइट पर इनकम टैक्स रिटर्न की प्रोसेसिंग तेज होगी, ताकि टैक्सपेयर्स को जल्दी रिफंड मिल सके.

- एक ही जगह पर मिल जाएगी हर एक्टिविटी की जानकारी : यूजर्स को वेबसाइट पर अपनी सभी गतिविधियों यानी अपलोड या पेंडिंग एक्शन जैसे क्या दस्तावेज अपलोड करने हैं, जैसी चीजों की जानकारी एक ही डैशबोर्ड पर मिल जाएगी, जहां से यूजर आगे की प्रक्रिया पूरी कर सकेंगे.

- फ्री ITR प्रिपरेशन सॉफ्टवेयर : यूजरों को आईटीआर 1, 4 (ऑनलाइन और ऑफलाइन) और आईटीआर 2 के लिए (ऑफलाइन) भरने में एक मुफ्त आईटीआर प्रिपरेशन सॉफ्टवेयर की मदद मिलेगी. यानी यूजरों से सवाल-जवाब करके इस सॉफ्टवेयर पर उनका रिटर्न भरने में मदद की जाएगी. आईटीआर 3, 5, 6, 7 के लिए यह सुविधा जल्द ही उपलब्ध होगी. 

- TDS स्टेटमेंट अपलोड होने के बाद सैलरी इनकम, ब्याज, डिविडेंड या पूंजीगत लाभ वगैरह की जानकारी के साथ प्री-फाइलिंग की सुविधा मिलने लगेगी. TDS फाइलिंग के लिए आखिरी तारीख 30 जून, 2021 है.

- प्री फाइलिंग में आसानी: टैक्सपेयर्स पहले से अपनी प्रोफाइल अपडेट कर सकेंगे. वो अपनी सैलरी, हाउस प्रॉपर्टी, व्यवसाय, नौकरी वगैरह की जानकारी पहले से दे सकेंगे, ताकि आईटीआर की प्री-फाइलिंग में आसानी हो.

-  नए पोर्टल पर इनकम टैक्स फॉर्म भरने, टैक्स प्रोफेशनल्स को जोड़ने और 'Notices in Faceless Scrutiny' या 'Appeals' के मामलों में अपना रिस्पॉन्स अपलोड करने की सुविधा मिलेगी.


-  कॉल सेंटर : यूजरों की मदद के सवालों के लिए एक कॉल सेंटर भी बनाया जाएगा. मदद के लिए हेल्पडेस्क और चैटबॉट उपलब्ध रहेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- मोबाइल ऐप : इसके अलावा एक मोबाइल ऐप भी लॉन्च करने की योजना है, जिससे यूजरों को नई वेबसाइट के फीचर्स समझने में मदद मिलेगी.