'Kharif Crops'

- 14 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Reported by: हिमांशु शेखर मिश्र, Edited by: सूर्यकांत पाठक |बुधवार अगस्त 24, 2022 04:12 PM IST
    भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के डायरेक्टर जनरल डॉ एम महापात्रा (Dr M Mohapatra) ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में जून, जुलाई और अगस्त में धान की बुवाई अच्छी नहीं हो पाई है क्योंकि यहां मॉनसून की बारिश (Monsoon Rainfall) औसत से अब तक करीब 40 प्रतिशत कम हुई है. बिहार में भी जुलाई और अगस्त में बारिश औसत से करीब 40 फीसदी कम हुई है. झारखंड में मॉनसून रेनफॉल की डेफिशियेंसी 26-27% है. पश्चिमी राजस्थान में आज भारी बारिश का पूर्वानुमान है.
  • India | Reported by: रवीश रंजन शुक्ला |मंगलवार अगस्त 16, 2022 05:37 PM IST
    कहीं बाढ़ तो कहीं सूखे के चलते इस साल देश भर में पिछले साल की तुलना में 43 लाख हेक्टेयर कम रकबे में खरीफ की फसल (Kharif crop) की बुआई हुई है. इसके चलते खास तौर पर अरहर और उड़द की दालों की कीमतों में इजाफा देखा जा रहा है. उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों में धान की रोपाई कम हो रही है. खुद सरकार के आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल जहां खरीफ की फसल की बुआई 353 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में हुई थी वहीं इस साल अब तक महज 310 लाख हेक्टेयर रकबे पर हो पाई है. जानकारों का अनुमान है कि इससे दालों के साथ चावल की पैदावार में 210 लाख टन की कमी आ सकती है.
  • Utility News | Reported by: भाषा |गुरुवार सितम्बर 9, 2021 09:17 AM IST
    चालू फसल वर्ष 2021-22 के लिए गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) 40 रुपये बढ़ाकर 2,015 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया. इसके अलावा सरसों का MSP 400 रुपये बढ़ाकर 5,050 रुपये प्रति क्विंटल किया गया है.
  • India | Reported by: हिमांशु शेखर मिश्र |बुधवार जून 9, 2021 06:01 PM IST
    केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा, 'नरेंद्र मोदी सरकार देश के किसानों की आय दोगुनी करने के लिए प्रतिबद्ध है. इससे देश के करोड़ों किसानों को लाभ मिलेगा.'तोमर ने प्रदर्शन कर रहे किसानो से बातचीत शुरू करने संबंधी सवाल पर कहा, 'किसान जब भी चर्चा के लिए तैयार होंगे, सरकार उनसे बातचीत के लिए तैयार है.' 
  • India | Reported by: हिमांशु शेखर मिश्र, Edited by: नवीन कुमार |सोमवार जून 22, 2020 09:19 PM IST
    अब मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण-पश्चिम मानसून सीजन के दौरान 22 जून से 23 जून के बीच कई इलाकों में काफी तेज़ बारिश का अनुमान है. लॉकडाउन की मार झेल चुके किसानों के लिए खरीफ फसलों की बुआई में बढ़ोतरी राहत की खबर है. अगले कुछ महीने अगर दक्षिण मानसून सीजन का ये ट्रेंड बरकरार रहता है तो किसानों की उपज भी बेहतर होगी. कमाई भी बढ़ेगी औऱ ग्रामीण भारत में हालात भी बेहतर होंगे.
  • India | Reported by: हिमांशु शेखर मिश्र |सोमवार जुलाई 29, 2019 11:19 PM IST
    कमजोर मॉनसून की वजह से 15 राज्यों के बड़े जलाशयों में पानी औसत से काफ़ी नीचे गिर गया है. कमज़ोर मॉनसून का असर खेती पर भी दिख रहा है. फ़सलों की बुवाई इस साल 47 लाख हेक्टेयर से कम ज़मीन पर हुई है. कमज़ोर और देर से आए मानसून का असर खरीफ की फसलों की बुआई पर दिख रहा है. बीते साल 26 जुलाई तक दलहन की बुवाई 101.84 लाख हेक्टेयर ज़मीन पर हुई थी. इस साल 26 जुलाई तक 82.92 लाख हेक्टेयर ज़मीन पर ही बुवाई हो सकी. यानी एक साल में 18.92 लाख हेक्टेयर कम ज़मीन पर बुवाई.
  • India | Reported by: हिमांशु शेखर मिश्र |सोमवार जुलाई 15, 2019 11:45 PM IST
    कमजोर मानसून की वजह से देश के 12 राज्यों के जलाशयों में पानी का स्तर औसत से नीचे गिर चुका है और महाराष्ट्र से लेकर तमिलनाडु तक कई बड़े राज्य पानी के संकट से जूझ रहे हैं. बारिश कम हो रही है तो किसानों को खरीफ फसलों की बुआई के लिए ज़रूरी पानी नहीं मिल पा रहा. नतीजा, बुआई का क्षेत्र घट गया है.
  • India | Reported by: हिमांशु शेखर मिश्र, Edited by: सूर्यकांत पाठक |मंगलवार जुलाई 9, 2019 02:18 AM IST
    कमजोर मानसून की वजह से देश में सूखे का संकट बड़ा होता दिख रहा है. फ़सलों की बुआई पर इसका सीधा असर पड़ा है. चावल-दाल की बुवाई 36 लाख हेक्टेयर कम हो गई है. चिंतित सरकार इसको लेकर बैठक कर रही है.
  • India | ख़बर न्यूज़ डेस्क |बुधवार सितम्बर 19, 2018 08:48 AM IST
    राजस्थान की चुनावी रैली में अमित शाह ने राहुल गांधी पर निशाना साधा. कहा कि उन्हें तो शक है कि कांग्रेस अध्यक्ष को रबी व खरीफ फसल का समय भी पता होगा. कांग्रेस किसानों के हितों की रक्षा नहीं कर सकती.
  • India | Reported by: हिमांशु शेखर मिश्र |बुधवार जुलाई 4, 2018 10:37 PM IST
    कैबिनेट ने किसानों को खरीफ की हर फसल की लागत का डेढ़ गुना मूल्य दिलाने के प्रस्ताव को मंज़ूरी दे दी है. बुधवार को कैबिनेट ने धान समेत 14 फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य में बड़ी बढ़ोत्तरी देने का ऐलान कर दिया. हालांकि कांग्रेस ने फसलों की कुल खर्च के आकलन में ज़मीन के खर्च को शामिल ना करने के फैसले पर सवाल उठाया है.
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com