मुंबई : मनसुख हीरेन की हत्या के वक्त मौजूद था सचिन वाजे : ATS सूत्र

ATS सूत्रों की मानें तो 4 मार्च की रात मनसुख हीरेन (Mansukh Hiren) की हत्या के वक्त सचिन वाजे (Sachin Vaze) भी मौजूद था.

मुंबई : मनसुख हीरेन की हत्या के वक्त मौजूद था सचिन वाजे : ATS सूत्र

सचिन वाजे को गिरफ्तार किया जा चुका है.

खास बातें

  • मुंबई पुलिस में API है सचिन वाजे
  • NIA ने वाजे को किया था गिरफ्तार
  • रेती बंदर में मिला था हीरेन का शव
मुंबई:

मुंबई (Mumbai) में मनसुख हीरेन (Mansukh Hiren) की हत्या में बड़ा खुलासा होता दिख रहा है. मनसुख हीरेन की हत्या के आरोप में ATS दो लोगों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है. ATS सूत्रों की मानें तो 4 मार्च की रात मनसुख की हत्या के वक्त सचिन वाजे (Sachin Vaze) भी मौजूद था. 4 मार्च की शाम के जीपीओ और सीएसटी से मिले सीसीटीवी फुटेज से पता चल रहा है कि शाम 07.01 बजे वझे एक वाहन की तरफ जाते दिख रहा है. ATS सूत्रों के मुताबिक, सचिन वाजे मनसुख से मिलने निकला था. रात 8.29 बजे मनसुख को व्हाट्सएप कॉल किया और उन्हें बुलाया.

इसके बाद में सचिन वाजे मनसुख को घोड़बंदर रोड पर गौमुख के पास ले गए. वहां पर लगभग 30 मिनट के लिए दोनों का लोकेशन एक साथ मिला है. शक है कि वहीं पर मनसुख की हत्या की गई. उसके बाद वझे वापस मुंबई पुलिस मुख्यालय की तरफ चला गया.

एंटीलिया केस : अंबानी के घर के पास मिले वाहन में रखी विस्फोटक सामग्री सचिन वाजे ने खरीदी थी : रिपोर्ट

अन्य आरोपियों ने बाद में शव मुम्ब्रा रेती बंदर में फेंक दिया और मनसुख का फोन नष्ट कर सिम कार्ड जान-बूझकर वसई में तुंगारेश्वर के पास चालू किया. ATS का मानना है कि ये जान-बूझकर जांच को भटकाने के लिए किया गया.

एंटीलिया केस में एक और लग्जरी कार की एंट्री, NIA के हाथ लगी काले रंग की ऑडी कार


वहीं एंटीलिया मामले में सचिन वाजे का एक और सीसीटीवी सामने आया है. 2 मार्च 2021 के इस सीसीटीवी में सचिन वाजे एक ऑडी कार चला रहा है. बांद्रा वर्ली सी-लिंक के टोल प्लाजा की सीसीटीवी में ऑडी कार का वीडियो कैद हुआ है. खास बात है कि कार में सचिन वाजे के साथ मनसुख की हत्या का आरोपी विनायक शिंदे भी बैठा है. इसी के दो दिन बाद मनसुख हीरेन की हत्या की गई. NIA ने वसई से ये ऑडी कार बरामद की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: मीठी नदी से मिला लैपटॉप और प्रिंटर सचिन वझे का है, NIA के हाथ अहम सबूत