कोरोना संकट के बीच मुंबई में डेंगू-मलेरिया का खतरा, BMC ने रोकथाम के लिए ली ड्रोन की मदद

मुंबई में डेंगू और मलेरिया के रोकथाम के लिए बीएमसी ने ड्रोन की मदद लेनी शुरू की है. ड्रोन से कीटनाशक दवाई का छिड़काव किया जा रहा है.

कोरोना संकट के बीच मुंबई में डेंगू-मलेरिया का खतरा, BMC ने रोकथाम के लिए ली ड्रोन की मदद

डेंगू की रोकथाम के लिए ड्रोन की मदद ली जा रही

मुंबई:

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई (Mumbai) में कोरोना वायरस (Coronavirus) संकट के बीच डेंगू (Dengue) और मलेरिया (Malaria) भी कहर ढाने लगा है. डेंगू और मलेरिया के खतरे को देखते हुए बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने एहतियाती कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. घरों में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव किया जा रहा है. इसके लिए ड्रोन की भी मदद ली जा रही है. मुंबई की मेयर ने कहा कि किसी को घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन सावधानी बरतना जरूरी है.  

डेंगू और मलेरिया के रोकथाम के लिए बीएमसी ने ड्रोन की मदद लेनी शुरू की है. ड्रोन से कीटनाशक दवाई का छिड़काव किया जा रहा है क्योंकि ऐसी कई बस्तियां हैं, जिनकी छत में बारिश का पानी जमा रहता है. बीएमसी कर्मचारी वहां पहुंच नहीं सकते इसलिए ऐसी जगहों पर ड्रोन से दवाई छिड़काव किया जा रहा है. 

मुंबई के धोबी तलाव इलाके में मुम्बई की महापौर किशोरी पेडणेकर ने खुद उपस्थित रहकर ड्रोन से दवाई छिड़काव का जायजा लिया. महापौर ने ये भी दावा किया किया कि किसी को घबराने की जरूरत नहीं है. सभी के लिए इलाज उपलब्ध है, लेकिन खुद भी सावधानी बरतने की जरूरत है. 

बता दें कि उत्तर प्रदेश के कई जिले में डेंगू और वायरल का प्रकोप झेल रहे हैं. डेंगू (Dengue) से फिरोजाबाद और मथुरा में अब तक 67 लोगों की जान जा चुकी है. सर्वाधिक प्रभावित फिरोजाबाद जिले में ही डेंगू से 52 लोगों की मौत हुई है, जिसमें कम से कम 40 बच्चे शामिल हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: फिरोजाबाद, मथुरा में डेंगू का कहर; हालात का जायजा लेने पहुंचे स्वास्थ्य अधिकारी