जी न्यूज एंकर रोहित रंजन 'गायब', छत्तीसगढ़ पुलिस ने नोएडा पुलिस पर लगाए आरोप

बुधवार को छत्तीसगढ़ पुलिस एक बार फिर जी न्यूज के दफ्तर पहुंची. छत्तीसगढ़ पुलिस ने जी न्यूज के संपादक और सह-संपादकों से पूछताछ के लिए नोटिस भी दिया है.

जी न्यूज एंकर रोहित रंजन 'गायब', छत्तीसगढ़ पुलिस ने नोएडा पुलिस पर लगाए आरोप

छत्तीसगढ़ पुलिस पहुंची जी न्यूज ऑफिस

नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बारे में गलत खबर दिखाने के मामले में जी न्यूज के एंकर रोहित रंजन (Rohit Ranjan) की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं. इस मामले में बुधवार को छत्तीसगढ़ पुलिस एक बार फिर जी न्यूज के दफ्तर पहुंची. छत्तीसगढ़ पुलिस ने जी न्यूज के संपादक और सह-संपादकों से पूछताछ के लिए नोटिस भी दिया है. इस दौरान पुलिस ने वहां एक और नोटिस दिया गया, जिसमें अगले सात दिनों में कई दस्तावेज उपलब्ध कराने को कहा गया है. इस पूरे मामले को लेकर छत्तीसगढ़ पुलिस नोएडा पुलिस पर एंकर रोहित रंजन को गायब करने का आरोप भी लगाया है.

Zee Anchor Rohit Ranjan Case: टीवी एंकर की हिरासत को लेकर उलझी पुलिस का क्या है मामला

छत्तीसगढ़ पुलिस के डीएसपी उदयन बेहार ने कहा कि बुधवार को छत्तीसगढ़ पुलिस रोहित रंजन की तलाश में ज़ी न्यूज़ के दफ्तर गई थी. वहां कई दस्तावेज देने के लिए नोटिस दिया है और कहा गया है कि 7 दिनों के अंदर दस्तावेज देने होंगे. इसके साथ ही संपादक और सहसंपादक से पूछताछ के लिए ज़ी न्यूज़ के दफ़्तर के बाहर नोटिस चस्पा कर दिया गया है. 

बता दें कि पिछले दिनों छत्तीसगढ़ के रायपुर पुलिस के डीसीपी उदयन बेहार ने NDTV से कहा था कि ''हमने कानून के तहत रोहित रंजन को गिरफ्तार करने की कोशिश की लेकिन गाजियाबाद पुलिस (Ghaziabad Police) ने जबरन आरोपी को अपनी गाड़ी में बिठा लिया. यह कानूनन गलत है. अगर वारंट है तो लोकल पुलिस को बताने की जरूरत नहीं है. हमने इंदिरापुरम थाने में पुलिस वालों के खिलाफ शिकायत की है. हमने एसएसपी को मेल भी किया है.''

उदयन बेहार ने कहा था कि ''यूपी पुलिस का व्यवहार समझ से बाहर है. हमने राहुल गांधी पर टिप्पणी को लेकर कई धाराओं में केस दर्ज किया है. हमें नहीं पता नोएडा पुलिस क्या जांच कर रही है? जीडी एंट्री में कुछ नहीं लिखा है कि कहां ले जा रहे हैं.''

UP के पूर्व DGP विक्रम सिंह ने बताया, दूसरे राज्य में गिरफ्तारी के वक्त छत्तीसगढ़ पुलिस ने की ये चूक

जी टीवी के एक न्यूज़ एंकर, रोहित रंजन को मंगलवार को नोएडा पुलिस ने हिरासत में ले लिया था. यह कार्रवाई चैनल द्वारा कांग्रेस नेता राहुल गांधी के भ्रामक वीडियो चलाने के बाद की गई है. इस वीडियो के लिए चैनल ने माफी भी मांगी थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


एक नाटकीय वीडियो में दो राज्यों की पुलिस में जोरदार बहस और धक्का-मुक्की होती दिख रही थी. छत्तीसगढ़ पुलिस एंकर को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही थी, जबकि गाजियाबाद में पुलिस एंकर को कहीं ओर लेकर निकल गई. रोहित रंजन ने सीएम योगी आदित्यनाथ, एसएसपी गाजियाबाद और एडीजी लखनऊ को टैग करते हुए ट्वीट किया, 'बिना लोकल पुलिस को जानकारी दिए छत्तीसगढ़ पुलिस मेरे घर के बाहर मुझे अरेस्ट करने के लिए खड़ी है, क्या ये क़ानूनन सही है.'