महाराष्ट्र: IPS विवेक फनसलकर बने मुंबई के नये पुलिस कमिश्नर

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार ने शक्ति परीक्षण से ठीक पहले एक बड़ा फैसला लेते हुए IPS विवेक फनसलकर (Vivek Phansalkar) को मुंबई (Mumbai) का नया पुलिस कमिश्नर (Police Commissioner)बनाया.

महाराष्ट्र: IPS विवेक फनसलकर बने मुंबई के नये पुलिस कमिश्नर

1989 बैच के आईपीएस विवेक फनसलकर कल चार्ज ले सकते हैं. 

मुंबई:

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार ने शक्ति परीक्षण से ठीक पहले एक बड़ा फैसला लेते हुए IPS विवेक फनसलकर (Vivek Phansalkar) को मुंबई (Mumbai) का नया पुलिस कमिश्नर (Police Commissioner) बनाया. 1989 बैच के आईपीएस विवेक फनसलकर कल चार्ज ले सकते हैं. वर्तमान पुलिस कमिश्नर संजय पांडे कल रिटायर हो रहे हैं उनकी जगह विवेक फनसलकर कल चार्ज  लेगें. बता दें , मुंबई पुलिस ने गुरुवार को होने वाले शक्ति परीक्षण से पहले विधानभवन के पास और उस मार्ग पर सुरक्षा बढ़ा दी है, जहां से शिवसेना के बागी विधायक हवाई अड्डे से निकलने के बाद गुजर सकते हैं. एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी.

पुलिस ने दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 लागू कर दी है जिसके तहत पांच या अधिक व्यक्तियों के एकत्र होने पर रोक है. दक्षिण मुंबई में विधान भवन और आसपास के क्षेत्रों में किसी को भी इकट्ठा नहीं होने की हिदायत दी गयी है. अधिकारी ने कहा कि एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में शिवसेना के बागी विधायकों के मुंबई हवाई अड्डे से विधानसभा परिसर पहुंचने के रास्ते में पर्याप्त पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे. उन्होंने कहा, ''पुलिस और यातायात पुलिस सतर्क हैं, क्योंकि शिवसेना के समर्थकों द्वारा बागी विधायकों के विधान भवन पहुंचने के दौरान विरोध प्रदर्शन किए जाने की आशंका है.'' अधिकारी ने यह भी कहा कि यातायात पुलिस यह सुनिश्चित करेगी कि बागी विधायकों को लेकर बसें बिना किसी बाधा के सुरक्षित विधान भवन पहुंचें.

उन्होंने कहा, ''हालांकि अभी तक शिवसेना के समर्थकों की योजना के बारे में कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है, लेकिन बागी विधायकों की बसों की आवाजाही के लिए एक हरित गलियारा बनाया जा सकता है.'' अधिकारी ने कहा कि शहर के अहम इलाकों में भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है. उन्होंने बताया कि एहतियातन पुलिस ने सभी प्रमुख राजनीतिक दलों के तौन सौ से अधिक नेताओं और कार्यकर्ताओं को सीआरपीसी की धारा-149 के तहत नोटिस जारी किया है.

महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम की धारा-37 के तहत पांच से अधिक व्यक्तियों के एकत्र होने पर प्रतिबंध लगाने के आदेश पहले से ही लागू हैं. अधिकारी ने कहा कि मुंबई और राज्य के अन्य हिस्सों में सभी बागी विधायकों के आवासों और कार्यालयों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है.

यह भी पढ़ें - महाराष्ट्र : राज्यसभा के बाद अब MLC चुनाव में BJP ने बढ़ाई उद्धव ठाकरे की टेंशन, फिर से कांटे की टक्कर

प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जारी की एडवाइजरी, इन रास्तों पर वाहनों की नो इंट्री

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसे भी देखें : Video : 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' ने गुजरात के केवड़िया कस्बे को कैसे बदला? बता रहे हैं रवीश रंजन शुक्ला



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)