जम्मू-कश्मीर में तापमान जीरो से नीचे, दिल्ली में छाया रहेगा घना कोहरा; जानें आपके शहर के मौसम का हाल

कश्मीर में रविवार को घाटी के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे चला गया. वहीं राजस्‍थान के कई इलाकों में रविवार को कोहरा छाया रहा. मौसम विभाग ने अगले तीन दिन दिल्‍ली में घने कोहरे का अनुमान जताया है.

जम्मू-कश्मीर में तापमान जीरो से नीचे, दिल्ली में छाया रहेगा घना कोहरा; जानें आपके शहर के मौसम का हाल

कश्मीर में रविवार को घाटी के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे चला गया.

खास बातें

  • जम्‍मू कश्‍मीर के कई इलाकों में तापमान शून्‍य से नीचे चला गया है
  • हिमाचल में शनिवार को बर्फबारी के बाद ठंड का प्रकोप बढ़ गया है
  • दिल्‍ली में अगले तीन दिनों तक घना कोहरा छाए रहने का अनुमान है
नई दिल्‍ली :

देश के कई इलाकों में अब ठंड अपना असर दिखाने लगी है. जम्‍मू कश्‍मीर के कई इलाकों में तापमान शून्‍य से नीचे चला गया है. पहलगाम में न्‍यूनतम तापमान शून्‍य से 3.9 डिग्री नीचे दर्ज किया गया है. वहीं हिमाचल प्रदेश के ऊपरी इलाकों में शनिवार को बर्फबारी के बाद ठंड का प्रकोप बढ़ गया है. वहीं तटीय राज्‍य तमिलनाडु के नीलगिरी में भी तापमान शून्‍य डिग्री रिकॉर्ड किया गया है. राजस्‍थान के कुछ इलाकों में रविवार की सुबह कई इलाकों में कोहरा छाया रहा तो मौसम विभाग ने दिल्‍ली को लेकर अगले तीन दिनों तक घना कोहरा छाए रहने का अनुमान जताया है. 

कश्मीर में रविवार को घाटी के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे चला गया. अधिकारियों के मुताबिक जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में शनिवार रात को तापमान शून्य से 2.1 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. यहां एक दिन पहले शुक्रवार रात को तापमान शून्य से 1.2 डिग्री सेल्सियस नीचे था. अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण कश्मीर में अनंतनाग जिले के पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से 3.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. एक दिन पहले शुक्रवार रात को तापमान शून्य से 0.2 डिग्री सेल्सियस नीचे था. अधिकारियों ने बताया कि बारामूला के प्रसिद्ध स्की रिसॉर्ट गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान शून्य से 3.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. काजीगुंड में न्यूनतम तापमान शून्य से 2.0 डिग्री सेल्सियस नीचे, कोकरनाग शहर में शून्य से 1.1 डिग्री सेल्सियस नीचे एवं कुपवाड़ा में शून्य से 2.7 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. 

चिल्‍लई कलां के दौर से गुजर रहा कश्‍मीर 

कश्मीर इस समय हाड़ कंपाने वाली सर्दी के दौर ‘चिल्लई कलां' से गुजर रहा है. चिल्लई-कलां' 40 दिनों की भीषण सर्दी की अवधि है जब इस क्षेत्र में शीत लहर चलती है और तापमान बेहद नीचे चला जाता है जिससे प्रख्यात डल झील सहित जलाशयों में पानी बर्फ बन जाता है. घाटी के कई हिस्से इस स्थिति का सामना करते हैं. इस अवधि में ज्यादातर हिस्सों में, विशेषकर ऊंचे इलाकों में बार-बार और बहुत बर्फबारी होती है. 'चिल्लई-कलां' की शुरुआत 21 दिसंबर से होती है और 31 जनवरी को यह समाप्त होगा. इसके बाद कश्मीर में 20 दिनों का 'चिल्लई-खुर्द' (छोटी ठंड) और 10 दिनों का 'चिल्लई-बच्चा' (हल्की ठंड) का दौर रहता है. उस दौरान भी शीत लहर जारी रहती है. 

हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में बर्फबारी 

हिमाचल प्रदेश के ऊपरी इलाकों में शनिवार को बर्फबारी हुई, वहीं मौसम विभाग ने 24 दिसंबर से राज्य में मौसम के शुष्क रहने का पूर्वानुमान जताया है. रोहतांग में अटल सुरंग के पास, इसके आसपास के इलाकों और लाहौल-स्पीति के केलांग में भी बर्फबारी हुई. लाहौल-स्पीति का समदो राज्य में सबसे ठंडा रहा, जहां न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 0.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहा और सिरमौर का धौलाकुआं 23.1 डिग्री सेल्सियस के साथ दिन के दौरान सबसे गर्म रहा. शिमला मौसम कार्यालय के निदेशक सुरिंदर पॉल ने बताया, ‘‘शुक्रवार रात से राज्य में पश्चिमी विक्षोभ का असर देखा गया. ऐसे में अलग-अलग स्थानों पर बर्फबारी और बारिश की उम्मीद की जा सकती है, लेकिन 24 दिसंबर से मौसम शुष्क रहेगा.''  

दिल्ली में तीन दिनों तक घने कोहरे का पूर्वानुमान

दिल्ली में रविवार को न्यूनतम तापमान 7.6 डिग्री सेल्सियस रहा, जो इस मौसम में सामान्य है. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने 25 से 28 दिसंबर तक घने कोहरे का पूर्वानुमान जताया है. इसने कहा कि 29 दिसंबर से 30 दिसंबर तक हल्का कोहरा छाया रहेगा और न्यूनतम तापमान में कुछ डिग्री की गिरावट आने की संभावना है. आईएमडी के मुताबिक, सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्ष आर्द्रता 95 प्रतिशत रही. सुबह नौ बजकर पांच मिनट पर दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 417 था जो ‘‘गंभीर''की श्रेणी में आता है. वहीं 23 दिसंबर को शाम चार बजे एक्यूआई 450 दर्ज किया गया था. 

राजस्‍थान में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने का अनुमान

राजस्थान में के कुछ स्थानों पर रविवार सुबह घना कोहरा छाया रहा. मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि रविवार सुबह सीकर जिले का फतेहपुर न्यूनतम तापमान 4.2 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे ठंडा स्थान दर्ज किया गया. वहीं अलवर में न्यनूतम तापमान 5.9 डिग्री दर्ज किया गया. उन्होंने बताया कि झुंझुनू के पिलानी में न्यूनतम तापमान 6.5 डिग्री दर्ज किया गया, जबकि सिरोही में रात का तापमान 7.1 डिग्री, चुरू में 7.3 डिग्री, सीकर शहर में 7.5 डिग्री, अंता (बारां) में 7.7 डिग्री और करौली में 7.9 डिग्री दर्ज किया गया. इस बीच, रविवार को पश्चिमी, उत्तरी और पूर्वी राजस्थान के कुछ हिस्सों में घना से बहुत घना कोहरा छाया रहा. मौसम विभाग ने अगले दो-तीन दिनों में राज्य के उत्तरी और पूर्वी हिस्सों में अलग-अलग स्थानों पर घना कोहरा छाए रहने और न्यूनतम तापमान में हल्की गिरावट आने की भी संभावना जताई है. वहीं 31 दिसंबर से प्रदेश में एक और नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने का अनुमान है. 

पंजाब और हरियाणा में भी ठंड दिखा रही असर 

पंजाब और हरियाणा में शनिवार को ठंड का प्रकोप बरकरार रहा और छह डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ बठिंडा सबसे ठंडा स्थान रहा. मौसम विज्ञान विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, पंजाब के लुधियाना, पटियाला और अमृतसर में न्यूनतम तापमान क्रमश 9.2 डिग्री, 8.6 डिग्री और 11 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं पठानकोट, गुरदासपुर और फरीदकोट में न्यूनतम तापमान क्रमश 12.9, 6.5 और 10.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. पड़ोसी राज्य हरियाणा के करनाल में 8.7 डिग्री जबकि फतेहाबाद में न्यूनतम तापमान छह डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. हिसार, भिवानी, सिरसा, अंबाला और नारनौल में न्यूनतम तापमान क्रमश 6.5, आठ, नौ, 10.5 और 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. पंजाब और हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 10.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. 

नीलगिरी में सड़कों और गाड़ियों पर बर्फ

तमिलनाडु के नीलगिरी में रविवार को तापमान शून्‍य डिग्री सेल्सियस पहुंच गया. इससे सड़कों और गाड़ियों पर बर्फ जम गई. मौसम विभाग ने तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक में अगले 5 दिन तक हल्की बारिश की आशंका जताई है. 

मध्‍य प्रदेश में सर्द हवाओं से कम रहा धूप का असर 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मध्य प्रदेश के कई शहरों में रविवार को घना कोहरा छाया रहा. सर्द हवाओं से धूप का असर भी कम रहा. हालांकि वेस्टर्न डिस्टरबेंस एक्टिव होने से रात और दिन का पारा 2 डिग्री से 8 डिग्री तक बढ़ा है. मौसम विभाग ने कहा कि 26 दिसंबर से राज्य में ठंड बढ़ेगी.