राष्ट्रीय राजनीति में एंट्री लेंगे तेलंगाना के मुख्यमंत्री KCR, इस महीने करेंगे नेशनल पार्टी का ऐलान

तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने 26 मई को जद (एस) नेता एचडी देवेगौड़ा से भी मुलाकात की थी और कहा था कि राष्ट्रीय स्तर पर बदलाव होगा जिसे रोका नहीं जा सकता.

राष्ट्रीय राजनीति में एंट्री लेंगे तेलंगाना के मुख्यमंत्री KCR, इस महीने करेंगे नेशनल पार्टी का ऐलान

2024 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं, जिसके मद्देनजर ये पार्टी बनाई जा रही है.

हैदराबाद:

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले एक राष्ट्रीय पार्टी बनाने जा रहे हैं. सूत्रों के अनुसार इस महीने के अंत तक इस पार्टी का ऐलान कर दिया जाएगा. जिसका नाम 'भारतीय राष्ट्र समिति' होने की उम्मीद है. हाल ही में केसीआर ने कई विपक्षी नेताओं से मुलाकात की थी और इस दौरान अहम मुद्दों पर चर्चा हुई थी. पिछले महीने केसीआर ने राष्ट्रीय राजधानी में समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के साथ बैठक की थी. इसके अलावा वे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से भी मिले थे. केसीआर ने  दिल्ली में बनीं मोहल्ला क्लिनिक का दौरा भी किया था.

तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने 26 मई को जद (एस) नेता एचडी देवेगौड़ा से भी मुलाकात की थी और कहा था कि राष्ट्रीय स्तर पर बदलाव होगा जिसे रोका नहीं जा सकता. केसीआर के प्रयास कांग्रेस को छोड़कर सभी समान विचारधारा वाले दलों के साथ भाजपा विरोधी गठबंधन (तीसरा मोर्चा) बनाने के लिए काफी स्पष्ट हैं.

ये भी पढ़ें- देवेंद्र फडणवीस भी हमारे पक्ष में मतदान करेंगे, अगर... : बोले शिवसेना के संजय राउत

वहीं विदेशों में रह रहे सभी भारतीयों से भी सहयोग लेने का प्रयास किया जा रहा है. दुनिया भर के तेलंगाना एनआरआई ने सर्वसम्मति से मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के राष्ट्रीय राजनीति में आने के फैसले के समर्थन में एक प्रस्ताव पारित किया. तेलंगाना एनआरआई समन्वयक बी गणेश ने एक प्रस्ताव पेश किया जिसमें टीआरएस सुप्रीमो और केसीआर के राष्ट्रीय राजनीति में प्रवेश करने के लिए एनआरआई के समर्थन की मांग की गई थी, जिसमें विभिन्न देशों के एनआरआई शामिल हुए थे.

बता दें कि साल 2024 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं. ऐसे में बीजेपी को टक्कर देने के लिए केसीआर अपनी पार्टी ला रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: मुस्लिम संगठन 'जमाअत उलमा ए हिंद' का आरोप, एजेंडे के तहत दंगे किए गए