व्यापार को लेकर छात्रों के नए विचार बेरोजगारी से निपटने में मददगार हो सकते हैं: मनीष सिसोदिया

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने शनिवार को कहा कि यहां के स्कूलों के छात्र उद्यमिता की अवधारणा सीख रहे हैं और कम उम्र में स्टार्ट-अप स्थापित कर रहे हैं.

व्यापार को लेकर छात्रों के नए विचार बेरोजगारी से निपटने में मददगार हो सकते हैं: मनीष सिसोदिया

छात्रों ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के समक्ष कुछ व्यावसायिक विचार पेश किए. 

नई दिल्ली:

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने शनिवार को कहा कि यहां के स्कूलों के छात्र उद्यमिता की अवधारणा सीख रहे हैं और कम उम्र में स्टार्ट-अप स्थापित कर रहे हैं. मनीष सिसोदिया ने शनिवार को एसकेवी शंकर नगर और एसकेवी मयूर विहार फेज-1 का दौरा किया और कहा कि व्यवसाय को लेकर छात्रों के नए विचार ‘‘भारतीय अर्थव्यवस्था को मजबूती देंगे'' और ये देश को ‘‘बेरोजगारी से छुटकारा पाने'' में मदद कर सकते हैं. दिल्ली के शिक्षा मंत्री सिसोदिया ने कहा, ‘‘दिल्ली के सरकारी स्कूलों (Government School) में छात्र कम उम्र में उद्यमिता की अवधारणाओं को सीखकर और स्टार्ट-अप की स्थापना करके जिम्मेदार नागरिक के साथ-साथ बुद्धिमान उद्यमी भी बन रहे हैं.''

उपमुख्यमंत्री के साथ बातचीत के दौरान छात्रों ने कहा कि ‘बिजनेस ब्लास्टर्स' कार्यक्रम ने ‘‘उन्हें टीम वर्क (मिलकर काम करने), योजना बनाने, जोखिम प्रबंधन, नेतृत्व, ग्राहक प्रबंधन, नेटवर्किंग और समय प्रबंधन का कौशल विकसित करने में मदद की है.''

छात्रों ने उपमुख्यमंत्री के समक्ष कुछ व्यावसायिक विचार पेश किए, जिनमें पुराने टायर से बने सोफे, जैविक साबुन, जैविक लिपस्टिक, चॉकलेट, प्लास्टिक बैग के विकल्प और घर के लिए सजावटी सामान आदि बनाये जाने से संबंधित विचार शामिल हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com



 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)