विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From May 07, 2023

"झूठ बोल रहे हैं", वसुंधरा राजे ने अशोक गहलोत के "BJP से मिली मदद" वाले बयान को बताया गलत

रविवार को एक कार्यक्रम में अशोक गहलोत ने कहा था कि 2020 में जब सचिन पायलट की बगावत की वजह से मेरी सरकार गिरने के कगार पर थी, तो मुझे उस समय बीजेपी नेता और राज्य की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे समेत उनकी पार्टी के तीन नेताओं का साथ मिला था.

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सीएम अशोक गहलोत पर पलटवार किया है

जयपुर:

राजस्थान की राजनीति गर्म है. सीएम अशोक गहलोत ((Ashok Gehlot) द्वारा सचिन पायलट (Sachin Pilot) सहित कुछ विधायकों के विद्रोह के दौरान बीजेपी नेताओं से मदद मिलने की बात कहने पर बीजेपी नेता वसुंधरा राजे ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. वसुंधरा राजे ने अशोक गहलोत पर झूठ बोलने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मेरे ख़िलाफ़ एक बड़ा षड्यंत्र कर रहे हैं. वसुंधरा राजे ने कहा कि वो अशोक गहलोत की कैसे मदद कर सकती हैं. जितना अपमान गहलोत ने उनका किया है किसी और ने नहीं किया है.

साथ ही उन्होने कहा कि 2023 में होने वाली हार से भयभीत होकर झूठ बोल रहे हैं. उन्होंने उस गृहमंत्री अमित शाह पर आरोप लगाया है, जिनकी ईमानदारी और सत्य निष्ठा सर्व विदित है.राजे ने कहा कि रिश्वत लेना और देना दोनों अपराध हैं, यदि उनके विधायकों ने पैसा लिया है तो एफआईआर दर्ज करवाएं. सच तो यह है कि अपनी ही पार्टी में हो रही बग़ावत और रसातल में जाते जनाधार के कारण बौखलाहट में उन्होंने ऐसे अमर्यादित और असत्य आरोप लगाए हैं.

अशोक गहलोत पर लगाया खरीद फरोख्त का आरोप

पूर्व सीएम ने कहा कि विधायकों की ख़रीद फ़रोख़्त की जहां तक बात है, इसके महारथी तो स्वयं अशोक गहलोत हैं. जिन्होंने 2008 और 2018 में अल्पमत में होने के कारण ऐसा किया था. उस वक्त न भाजपा को बहुमत मिला था और न ही कांग्रेस को. उस समय चाहते तो हम भी सरकार बना सकते थे, पर यह भाजपा के सिद्धांतों के ख़िलाफ़ था. इसके विपरीत गहलोत ने अपने लेन देन के माध्यम से विधायकों की व्यवस्था कर दोनों समय सरकार बनाई थी. वे 2023 के चुनाव में होने वाली ऐतिहासिक हार से बचने के लिए ऐसी मनगढ़ंत कहानियाँ गढ़ रहें है,जो दुर्भाग्य पूर्ण है पर उनकी ये चाल कामयाब होने वाली नहीं है.

अशोक गहलोत ने क्या कहा था?

अशोक गहलोत ने कहा था कि एमएलए शोभा रानी बहुत बोल्ड लेडी हैं. शोभा रानी ने जब साथ दिया हमारा, तो भाजपा वालों की हवा उड़ गई. सीएम गहलोत ने कहा कि, ''जब शेखावत मुख्यमंत्री थे, उस वक्त उनकी पार्टी के लोग सरकार गिरा रहे थे. मैं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष था. मेरे पास लोग आए... बंटने लगा पैसा. अभी बंटा वैसा उस वक्त भी बंटा था. मैंने उनसे कहा भले आदमियो तुम्हारा नेता भैरौ सिंह शेखावत मुख्यमंत्री है, मैं पीसीसी का अध्यक्ष हूं. वो बीमार है, इसलिए अमेरिका गया हुआ है. और तुम पीठ पीछे षड्यंत्र करके सरकार गिरा रहे हो. मैं तुम्हारा साथ नहीं दूंगा.'' 

गहलोत ने भैरो सिंह शेखावत की सरकार को बचाने का किया था दावा

अशोक गहलोत ने कहा कि अगर मैं चाहता तो बागी विधायकों के साथ शामिल हो सकता था, भैरो सिंह की सरकार गिर सकती थी. लेकिन मैंने कहा तुम यह अनैतिक काम कर रहे हो. जो आदमी बीमार है, तीन-तीन आपरेशन हो गए. उनकी वहां पर स्थिति बहुत नाजुक हो गई थी. और तुम पीछे सरकार गिरा रहे हो.

ये भी पढ़ें-

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
नौकरी और इंटर्नशिप वाली योजना में मोदी सरकार की हैं कुछ शर्तें; इन्हें मानने पर ही मिलेगा पेमेंट
"झूठ बोल रहे हैं", वसुंधरा राजे ने अशोक गहलोत के "BJP से मिली मदद" वाले बयान को बताया गलत
कांवड़ यात्रा : आचार्य प्रमोद ने यूपी में दुकानों पर 'नेमप्लेट' लगाने के फैसले का किया समर्थन
Next Article
कांवड़ यात्रा : आचार्य प्रमोद ने यूपी में दुकानों पर 'नेमप्लेट' लगाने के फैसले का किया समर्थन
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;