पुदुच्चेरी में नारायणसामी सरकार को 22 फरवरी को बहुमत साबित करने को कहा गया

पुदुच्चेरी में सत्तारुढ़ कांग्रेस पार्टी नंबर के संकट से जूझ रही है. माना जा रहा है कि चार कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे के बाद सीएम नारायणसामी की सरकार अल्पमत में आ गई है.

पुदुच्चेरी में नारायणसामी सरकार को 22 फरवरी को बहुमत साबित करने को कहा गया

सीएम नारायणसामी ने बीजेपी पर विधायकों की खरीद-फरोख्‍त का आरोप लगाया है

पुदुच्चेरी में वी. नारायण सामी (V. Narayanasamy) की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार को 22 फरवरी को बहुमत साबित करने को कहा गया है. उप राज्‍यपाल तामिलिसाई सौंदर्यराजन ने नारायणासामी को सोमवार को बहुमत साबित करने के लिए कहा है.गौरतलब है कि पुदुच्चेरी में सत्तारुढ़ कांग्रेस पार्टी नंबर के संकट से जूझ रही है. माना जा रहा है कि चार कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे के बाद सीएम नारायणसामी की सरकार अल्पमत में आ गई है. हालांकि, मुख्‍यमंत्री ने इससे इनकार किया है.

Kiran Bedi को पुदुच्चेरी से क्यों हटाया गया? यह हैं 3 बड़े कारण, जो आपको जानने चाहिए

किरण बेदी के हटाए जाने के बाद उप राज्‍यपाल का कार्यभार संभालने वाली तामिलिसाई सौंदर्यराजन ने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए फ्लोर टेस्‍ट जरूरी है कि कांग्रेस सरकार बहुमत में है. 30 सदस्‍यों वाली पुदुच्चेरी विधानसभा में कांग्रेस के 15 विधायक थे जबकि डीएमके के तीन और एक निर्दलीय का समर्थन भी उसे हासिल था. हालांकि चार कांग्रेस विधायकों के इस्‍तीफे के बाद स्थिति में बदलाव आया है और माना जा रहा है कि राज्‍य की कांग्रेस सरकार बहुमत के आंकड़े को जुटाने की स्थिति में नहीं है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कांग्रेस के चार विधायकों ने हाल में इस्तीफा दे दिया है जबकि एन. धनावेलु को पिछले साल कथित तौर पर पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते अयोग्य करार दे दिया गया था. कुछ ही दिन पहले NDTV से बात करते हुए नारायणसामी ने कहा था कि  भाजपा विधायकों की खरीद-फरोख्त में लगी है, और वह अन्य राज्यों में 'लोकतांत्रिक तरीके से चुनी गई सरकारों को गिराने' के लिए इस्तेमाल की गई रणनीति को दोहरा रही है.पुदुच्चेरी में इसी साल अप्रैल-मई माह में विधानसभा चुनाव होने हैं.