MP की जनता के दिल में बसते हैं PM मोदी, कहीं नहीं थी सत्ता विरोधी लहर : BJP की जीत पर शिवराज चौहान

Assembly Elections Result 2023: निवर्तमान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा, "मध्य प्रदेश के लोगों में कभी भी सत्ता विरोधी भावना नहीं देखी. वे सत्ता समर्थक ही रहे हैं. कांग्रेस के कुछ लोगों ने जनता को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन जनता ने बीजेपी पर भरोसा किया."

MP की जनता के दिल में बसते हैं PM मोदी, कहीं नहीं थी सत्ता विरोधी लहर :  BJP की जीत पर शिवराज चौहान

खास बातें

  • मध्य प्रदेश की सत्ता में बीजेपी की वापसी
  • बुधनी से जीते शिवराज सिंह चौहान
  • 63 सीटों पर सिमटी कांग्रेस
भोपाल:

मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना विधानसभा चुनावों (Assembly Elections Result 2023))के नतीजे सामने हैं. बीजेपी (BJP) ने हिंदी हार्टलैंड के तीनों राज्यों में बंपर जीत हासिल की है. जबकि तेलंगाना में केसीआर (KCR) के हाथ से सत्ता फिसलकर कांग्रेस के हाथ में गई है. मध्य प्रदेश विधानसभा (Madhya Pradesh Elections Result 2023) की 230 सीटों पर बीजेपी को दो तिहाई से ज्यादा बहुमत मिला है. BJP 158 सीटें जीत चुकी है. कांग्रेस 63 सीट जीत गई है. बहुमत के लिए 116 सीटें चाहिए. इस बंपर जीत के बाद मध्य प्रदेश के मौजूदा सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि उनकी सरकार ने लोगों के लिए इतने अच्छे काम किए हैं. ये जीत इसी का नतीजा है. उन्होंने कहा कि राज्य में बीजेपी के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर (Anti-Incumbency)जैसी कोई चीज नहीं थी, बल्कि 'सत्ता समर्थक लहर' थी.

मध्य प्रदेश के निवर्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधनी सीट से जीत चुके हैं. चौहान ने NDTV से खास इंटरव्यू में कहा, "मुझे हमेशा से पता था कि लोग बीजेपी पर भरोसा करते हैं. उन्होंने देखा है कि पार्टी ने राज्य में कितना विकास किया है."

एमपी की जनता के दिल में बसते हैं पीएम मोदी
शिवराज सिंह चौहान ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्य प्रदेश की जनता के दिलों बसते हैं. डबल इंजन सरकार की ओर से किए गए काम चाहे वह केंद्र में हो या राज्य में जनता की भलाई के लिए हैं. 'लाड़ली बहना योजना' ने महिलाओं के उत्थान और उनकी जिंदगी को बेहतर बनाने में मदद की है. हम सभी ने मिलकर कड़ी मेहनत की है. ये जीत इसी का नतीजा है."

कांग्रेस ने की जनता को गुमराह करने की कोशिश
चौहान ने कहा, "मैंने हमेशा यह कहा है और फिर से अपनी बात दोहराता हूं कि मैंने लोगों में कभी भी सत्ता विरोधी भावना नहीं देखी. वे सत्ता समर्थक ही रहे हैं. कांग्रेस के कुछ लोगों ने जनता को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन जनता ने बीजेपी पर भरोसा किया."

शिवराज सिंह चौहान अपनी सरकार की योजनाओं खासकर 'लाड़ली बहना' योजना के इर्द-गिर्द अपना चुनावी अभियान चलाकर और महिला वोटर्स के साथ भावनात्मक जुड़ाव बनाकर विरोधियों के खिलाफ एक मुद्दा बनाने में सफल रहें.

बिना सीएम चेहरे को बीजेपी ने लड़ा था चुनाव
बीजेपी ने बिना सीएम चेहरे के विधानसभा चुनाव लड़ा. बीजेपी नेताओं ने कहा कि चुनाव के नतीजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों के व्यापक समर्थन को रेखांकित करते हैं. इस बंपर जीत के बाद शिवराज सिंह चौहान मध्य प्रदेश के सीएम पद के लिए सबसे पसंदीदा नाम के रूप में उभरे हैं. हालांकि, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में सीएम की रेस में कई नाम रेस में हैं.


ये भी पढ़ें:-

हिंदी हार्टलैण्ड में कांग्रेस का जातिगत गणना का दांव फेल? क्या कहते हैं राजस्थान और MP-CG के नतीजे

"सबका साथ, सबका विकास की भावना की जीत..." : चार राज्यों के चुनावी नतीजों पर PM नरेंद्र मोदी

राजस्थान : अशोक गहलोत पर उनके OSD ने किया जोरदार हमला, कांग्रेस की हार के लिए ठहराया जिम्मेदार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अब देश की आधी से ज़्यादा आबादी पर BJP का राज, कांग्रेस राज सिमटा 8.5% हिन्दुस्तानियों पर