आर्यन खान केस : जांच अधिकारी ने चरस के बारे में अहम जानकारी छुपाई - सूत्र

सूत्र बताते हैं कि आर्यन खान के दोस्‍त अरबाज मर्चेंट ने पिछले वर्ष अक्‍टूबर में एनसीबी के समक्ष दिए बयान में कहा था कि वह सुपरस्‍टार (शाहरुख) के बेटे के लिए नहीं बल्कि अपने इस्‍तेमाल के लिए छह ग्राम चरस रखे हुए था.

आर्यन खान केस : जांच अधिकारी ने चरस के बारे में अहम जानकारी छुपाई - सूत्र

आर्यन खान को क्रूज ड्रग्‍स मामले में क्‍लीन चिट मिल गई है

नई दिल्‍ली :

मुंबई ड्रग्‍स ऑन क्रूज मामले में 'टीम समीर वानखेड़े' की घटिया जांच के और तथ्‍य सामने आए हैं. यह बताते है कि वानखेड़े और उनकी टीम की ओर से कैसे एक अहम जानकारी को छुपाया गया. सूत्र बताते हैं कि आर्यन खान के दोस्‍त अरबाज मर्चेंट ने पिछले वर्ष अक्‍टूबर में एनसीबी के समक्ष दिए बयान में कहा था कि वह सुपरस्‍टार (शाहरुख) के बेटे के लिए नहीं बल्कि अपने इस्‍तेमाल के लिए छह ग्राम चरस रखे हुए था. अरबाज ने एनसीबी टीम से यह भी कहा था कि आर्यन ने क्रूज की पार्टी के लिए अपने साथ कोई ड्रग्‍स नहीं रखने के लिए कहा था. आर्यन को क्रूज ड्रग्‍स मामले में क्‍लीन चिट मिल गई है. 

अब यह पता चला है कि इस बयान को छुपाकर, वानखेड़े और उनकी टीम ने आर्यन खान को अगले दिन इस आरोप में गिरफ्तार कर लिया कि अरबाज के पास यह चरस शाहरुख खान के बेटे के लिए थी.  मुंबई ड्रग्‍स ऑन क्रूज मामले की शुरुआत में तफ्तीश करने वाले पूर्व एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) को घटिया जांच और फर्जी जाति प्रमाणपत्र दाखिल करने के मामले में कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है. एक अधिकारी ने नाम उजागर न करने की शर्त पर कहा, "सरकार ने घटिया जांच के लिए सक्षम अधिकारी से वानखेड़े के खिलाफ कार्रवाई के लिए कहा है. उनके खिलाफ फर्जी जाति प्रमाणपत्र के लिए कार्रवाई की जाएगी. " 

एनसीबी सूत्रों ने कहा कि यह छह ग्राम चरस मर्चेंट (अरबाज) के पास मिली थी जो आर्यन के साथ यात्रा कर रहा था. आर्यन खान के पास कोई ड्रग्‍स बरामद नहीं हुई थी.सूत्रों के अनुसार, पिछले साल अक्‍टूबर में जांच अधिारी आशीष रंजन प्रसाद के समक्ष बयान में मर्चेंट ने जूतों में चरस रखने की बात स्‍वीकार की थी लेकिन यह नहीं कहा था कि यह आर्यन समेत किन्‍ही अन्‍य लोगों के लिए है. छापेमारी के दौरान मौजूदा दो स्‍वतंत्र गवाहों में से एक प्रभाकर ने पिछले साल नवंबर में अपने बयान में कहा था कि उससे एक अन्‍य गवाह किरण गोसावी (जो मौके पर मौजूद था) ने खाली पेपर पर दस्‍तखत करने के लिए कहा था. प्रभाकर की हाल ही में मौत हो गई है. सूत्रों ने कहा कि यह अजीब बात है कि मर्चेंट की ओर से ड्रग्‍स लेने में आर्यन की किसी भी तरह की संलिप्‍तता से इनकार किए जाने के बावजूद जांच अधिकारी ने औपचारिक तौर पर मोबाइल जब्‍त किए बिना आर्यन के व्‍हाट्सएप चैट देखना शुरू कर दिया. 

- ये भी पढ़ें -

* "मुझे आज़ाद कीजिए..." : राजस्थान के मंत्री के ट्वीट से सामने आईं कांग्रेस की दिक्कतें
* ड्रोन तकनीक रोज़गार देने वाली है, 2030 तक भारत 'ड्रोन हब' बन जाएगा : पीएम मोदी
* "MP बंगले से बेदखल होंगे भगवंत मान, लोकसभा सचिवालय ने कार्यवाही का दिया आदेश

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आर्यन खान को कॉर्डिलिया क्रूज ड्रग्‍स मामले में मिली क्‍लीनचिट, NCB ने दाखिल की चार्जशीट