Karnataka Covid Guidelines: कर्नाटक में मास्क पहनना अनिवार्य, फ्लू के लक्षण दिखने पर कोविड टेस्ट जरूरी

karnatak Covid Advisory: एडवाइजरी के अनुसार बंद जगहों पर मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है. विदेश से उतरने वाले यात्रियों की कोविड-19 की रैंडम जांच की जाएगी. अस्पतालों को ऑक्सीजन सिलेंडर, प्लांट और जनरेटर तैयार रखने को कहा गया है.

Karnataka Covid Guidelines: कर्नाटक में मास्क पहनना अनिवार्य, फ्लू के लक्षण दिखने पर कोविड टेस्ट जरूरी

कर्नाटक सरकार हर दिन 2000 से 4000 मरीजों का कोविड टेस्ट करेगी.

बेंगलुरु:

चीन में कोरोना के कोहराम के बाद अब भारत भी अलर्ट मोड पर आ गया है. केंद्र सरकार की तरफ से कोविड को लेकर बैठकें की जा रही है. पीएम मोदी की अध्यक्षता में भी कोविड को लेकर उच्च स्तरीय  बैठक हुई है. राज्य सरकार की तरफ से भी अपने-अपने राज्यों में कोरोना से बचाव के लिए एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं. इसी कड़ी में कर्नाटक में मास्क की वापसी हो गई है. राज्य ने अब मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है. वहीं, फ्लू के लक्षण होने पर कोविड टेस्ट कराना जरूरी होगा.

कर्नाटक में स्वास्थ्य अधिकारियों ने सुरक्षा प्रोटोकॉल को सूचीबद्ध करते हुए एक एडवाइजरी जारी की है, जिसका पालन लोगों को कोविड-19 को दूर रखने के लिए करना होगा. एडवाइजरी के अनुसार बंद जगहों पर मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है. विदेश से उतरने वाले यात्रियों की कोविड-19 की रैंडम जांच की जाएगी. अस्पतालों को ऑक्सीजन सिलेंडर, प्लांट और जनरेटर तैयार रखने को कहा गया है.

सरकारी और निजी दोनों अस्पतालों को कोविड मरीजों के लिए अलग-अलग बेड की व्यवस्था करने के निर्देश भी जारी किए गए हैं. स्वास्थ्य विभाग टीके की तीसरी खुराक के साथ पात्र लाभार्थियों को टीका लगाने के लिए और अधिक टीकाकरण शिविर भी लगाया जाएगा.

कर्नाटक स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी की ये गाइडलाइन
-कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने अपने राज्य में चीन में कोविड मामलों में वृद्धि पर ध्यान दिया.
-सभी बंद स्थानों और इनडोर सेटिंग्स, विशेष रूप से एयर कंडीशन वाले स्थानों में मास्क अनिवार्य कर दिया गया है. 
-सरकार राज्यभर में इन्फ्लूएंजा, फ्लू जैसी बीमारी और गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण वाले सभी रोगियों को कोविड टेस्ट कराना जरूरी है.
-सरकार हर दिन 2000 से 4000 मरीजों का कोविड टेस्ट करेगी.
-एयरपोर्ट पर सभी यात्रियों में से दो फीसदी की रैंडम जांच जारी रहेगी.
-सरकार ऑक्सीजन संयंत्रों और ऑक्सीजन जनरेटर का आकलन करने के लिए सभी अस्पतालों में अभ्यास भी करेगी.
-सभी जिला अस्पतालों को कोविड मरीजों के लिए बेड रिजर्व करने के निर्देश दिए गए हैं.
-बूस्टर डोज देने के लिए विशेष कैंप लगाए जाएंगे.
-कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, "कोविड के लिए अभी तक मरीजों की कोई सामूहिक जांच नहीं होगी, क्योंकि स्थिति अभी भी नियंत्रण में है."

ये भी पढ़ें:-

ओमिक्रॉन के नए सब-वेरिएंट पर नहीं हो रहा एंटीबॉडी का असर, जानें BF.7 से जुड़े अहम सवालों के जवाब

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मास्क पहने, टेस्टिंग और जीनोम सीक्वेंसिंग बढ़ाएं : PM मोदी ने कोरोना को लेकर दिए निर्देश