भगवंत मान चाहते तो मंत्री से सेटिंग करके अपने लिए हिस्सा मांग सकते थे, लेकिन.. : अरविंद केजरीवाल

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री विजय सिंगला को भ्रष्टाचार के मामले में मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बर्खास्त कर दिया, केजरीवाल ने कहा भगवंत पर देश को गर्व

भगवंत मान चाहते तो मंत्री से सेटिंग करके अपने लिए हिस्सा मांग सकते थे, लेकिन.. : अरविंद केजरीवाल

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि ''आज पंजाब (Punjab) के मुख्यमंत्री सरदार भगवंत मान (Bhagwant Mann) ने अपने हेल्थ मिनिस्टर को बर्खास्त कर दिया. उनके खिलाफ केस दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार किया गया. ना मीडिया, ना विपक्ष, किसी को इस भ्रष्टाचार का पता नहीं था. भगवंत मान चाहते तो मंत्री से सेटिंग करके अपने लिए हिस्सा मांग सकते थे. अब तक तो ऐसे ही होता था. वे चाहते तो मामले को दबा सकते थे. लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. भगवंत, हमें, पूरे पंजाब और देश को आपके ऊपर गर्व है.'' 

अरविंद केजरीवाल ने एक बयान में कहा कि ''साल 2015 में जब दिल्ली में हमारी सरकार बनी थी, तब मैंने भी अपने फूड मिनिस्टर के खिलाफ एक्शन लिया था. उसके भ्रष्टाचार के सबूत मेरे पास आए थे. तब भी किसी को नहीं पता था, मैंने खुद ब खुद उसके खिलाफ एक्शन लिया था. आम आदमी पार्टी ईमानदार पार्टी है. अगर हमारा अपना भी कोई चोरी करेगा, तो हम उसे छोड़ेंगे नहीं.'' 

उन्होंने कहा कि ''अभी तक देखा गया है कि सभी पार्टियों में आपस में सेटिंग होती थी. अपनों को पकड़ना तो दूर एक-दूसरे के नेताओं के खिलाफ भी वे एक्शन नहीं लेते थे. पहली बार ऐसा हो रहा है कि कोई पार्टी अपने खुद के लोगों के भ्रष्टाचार के खिलाफ एक्शन ले रही है.'' 

केजरीवाल ने कहा कि ''भगवंत मान के डिसीजन से लोग बहुत खुश हैं. उन्हें यकीन नहीं हो रहा है कि कोई सरकार इतनी ईमानदार हो सकती है. कई लोगों की आंखों में खुशी के आंसू हैं. विपक्ष को समझ नहीं आ रहा है कि क्या कहें, कैसे इसका विरोध करें. विपक्ष कह रहा है कि देखो, सरकार बनने के दो महीने में ही इन लोगों ने भ्रष्टाचार करना शुरू कर दिया.'' 

उन्होंने कहा कि ''ये सारी पार्टियां भ्रष्टाचार करती हैं. पहले दिन से ये लोगों को लूटना चालू कर देती हैं. लेकिन दुनिया के इतिहास में पहली बार, यह पहली सरकार है, जो पता लगते ही सख्त से सख्त एक्शन लेती है. चाहे गुनाह करने वाला अपना ही क्यों ना हो. करप्शन देश और भारत माता के साथ गद्दारी है, हम कुछ भी बर्दाश्त कर लेंगे, लेकिन भारत माता के साथ गद्दारी बर्दाश्त नहीं करेंगे. गर्दन कट जाएगी, लेकिन देश के साथ गद्दारी कबूल नहीं है. न गद्दारी करेंगे न किसी को करने देंगे.'' 

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ''बचपन से मां-बाप ने घर में ईमानदारी का संस्कार दिया है. जो हमने किया है, यह करने के लिए बहुत हिम्मत चाहिए, यह हिम्मत हमें भगवान से मिलती है. आज पूरे देश में सिर्फ और सिर्फ एक ही पार्टी है, जो कट्टर ईमानदार सरकार दे सकती है. कुछ लोग कहते हैं कि पार्टी और सरकार चलाने के लिए थोड़ी तो करप्शन करना पड़ता है, लेकिन आम आदमी पार्टी ने साबित कर दिया कि पार्टी और सरकार बिना भ्रष्टाचार के ईमानदारी से भी चल सकती है.'' 

उन्होंने कहा कि ''भारतीय राजनीति बहुत खराब हो गई है, बहुत दूषित हो गई है. भारतीय राजनीति में आम आदमी पार्टी एक नई शुरुआत है, ईमानदारी और देशभक्ति की शुरुआत, एक सुनहरा भारत बनाने की शुरुआत.''

यह भी पढ़ें -

"आंसू आ गए ..." : भगवंत मान के भ्रष्टाचार विरोधी कदम पर अरविंद केजरीवाल

"चट बर्खास्त, पट गिरफ्तार", जानें पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री विजय सिंगला पर भ्रष्टाचार के आरोपों की पूरी कहानी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com