विज्ञापन
Story ProgressBack

राजकोट के गेमिंग जोन में आग लगने से 12 बच्चों सहित 27 लोगों की मौत; कई लापता, PM मोदी तक पहुंचा मामला

Rajkot Gaming Zone Fire Incident : गुजरात के राजकोट में बड़ा हादसा हुआ है. यहां के गेमिंग जोन में आग लगने से अब तक 27 लोगों की मौत की सूचना है. हताहतों की संख्या बढ़ भी सकती है.

Read Time: 3 mins
राजकोट के गेमिंग जोन में आग लगने से 12 बच्चों सहित 27 लोगों की मौत; कई लापता, PM मोदी तक पहुंचा मामला
गुजरात में आग से जलकर अब तक 27 लोगों की मौत हो गई है.
राजकोट:

Rajkot Gaming Zone Fire Incident : गुजरात के राजकोट शहर में शनिवार शाम एक गेमिंग जोन में भीषण आग लग गई. अब तक 12 बच्चों सहित कम से कम 27 लोगों की मौत हो गई है. आशंका है कि मरने वालों की संख्या और बढ़ेगी. कई लोग अभी भी लापता हैं. घटना स्थल पर बचाव कार्य जारी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मामले की जानकारी मिलने पर एक्स पर ट्वीट किया, "राजकोट में आग लगने की घटना से बेहद व्यथित हूं. मेरी संवेदनाएं उन सभी के साथ हैं, जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है. घायलों के लिए प्रार्थना कर रहा हूं. स्थानीय प्रशासन प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए काम कर रहा है." इसी तरह अमित शाह, मल्लिकार्जुन खरगे, अरविंद केजरीवाल सहित कई दलों के नेताओं ने घटना पर शोक जताया है. 

पढ़ें-आग, धुआं और चीखें..., गेम जोन हादसे में 27 लोग जिंदा जले, 12 बच्चे भी शामिल; कैसे हुई घटना?

गुजरात के मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को पीड़ितों को तत्काल राहत पहुंचाने का निर्देश दिया है. गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल ने कहा, ''राजकोट में गेम जोन में आग लगने की घटना में नगर निगम और प्रशासन को तत्काल बचाव और राहत कार्यों के निर्देश दिए गए हैं. घायलों के तत्काल इलाज की व्यवस्था को प्राथमिकता देने के भी निर्देश दिए गए हैं.'' हादसे में मरे लोगों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया गया है. वहीं घायलों को 50-50 हजार का मुआवजा मिलेगा. अहमदाबाद से घायलों के इलाज के लिए 40 डॉक्टरों की टीम भी राजकोट पहुंच गई है. पूरे मामले की जांच के लिए SIT गठित की गई है.

राजकोट के पुलिस आयुक्त राजू भार्गव ने कहा, टीआरपी गेमिंग जोन में आग लग गई और कुछ लोगों के हताहत होने की सूचना है. उन्होंने कहा, "मैं आग लगने के पीछे के कारण अभी नहीं बता सकता. यह जांच का विषय है. बचाव अभियान जारी है और कई दमकल गाड़ियां मौके पर भेज दी गईं हैं. हम दमकल अधिकारियों से बात करेंगे कि और क्या मदद की जानी चाहिए.

आग पर काबू पाने और कूलिंग ऑपरेशन चलाने के बाद हताहतों की संख्या यदि कोई होगी तो पता चल जाएगी. एक अग्निशमन अधिकारी ने एएनआई को बताया कि, "आग लगने का कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है. आग बुझाने के प्रयास जारी हैं. हमें लापता लोगों का कोई संदेश नहीं मिला है. हवा के वेग के कारण अस्थायी संरचना ढह गया है और हमें अग्निशमन अभियान चलाने में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है." 

अग्निशमन अधिकारी ने कहा, "आग पर काबू पाने के बाद हम जोन के अंदर हताहतों की सही संख्या का पता लगाने में सक्षम होंगे. हम आग के कारण की भी जांच करेंगे. इसके साथ ही शहर के सभी गेमिंग जोन को बंद करने के लिए एक संदेश जारी किया गया है."

राजकोट प्रशासन ने हताहत लोगों के परिजनों की सहायता के लिए फोन नंबर भी जारी किए हैं. प्रशासन ने कहा कि गेम जोन में आग लगने की घटना के संबंध में पूछताछ के लिए सिविल अस्पताल आने वाले लोगों से अनुरोध है कि यदि उन्हें किसी भी जानकारी की आवश्यकता हो तो फोन नंबर +917698983267 और +919978913796 पर संपर्क करें.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
पीएम मोदी का राहुल पर 'आपातकाल' अटैक': लगातार किए 4 ट्वीट, जानिए क्या-क्या कहा
राजकोट के गेमिंग जोन में आग लगने से 12 बच्चों सहित 27 लोगों की मौत; कई लापता, PM मोदी तक पहुंचा मामला
आपका एक कोरियर आया है... नोएडा की बुजुर्ग महिला को ब्लैकमेल कर कैसे लूट लिए 1.3 करोड़
Next Article
आपका एक कोरियर आया है... नोएडा की बुजुर्ग महिला को ब्लैकमेल कर कैसे लूट लिए 1.3 करोड़
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;