सॉफ्टवेयर इंजीनियर सहेली से शादी के लिए पहले किया जेंडर चेंज, फिर ज़िन्दा जला डाला

जांच से पता चला कि 26 वर्षीय पंडी महेश्वरी मदुरै के एक स्कूल में नंदिनी के साथ पढ़ती थी. महेश्वरी ने अपना नाम बदलकर वेट्रीमारन रख लिया था.

सॉफ्टवेयर इंजीनियर सहेली से शादी के लिए पहले किया जेंडर चेंज, फिर ज़िन्दा जला डाला

पीड़ित मदुरै की 25 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर थी.

खास बातें

  • पीड़ित मदुरै की 25 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर थी
  • आरोपी ने अपना नाम बदलकर वेट्रिमारन रख लिया था
  • आरोपी मदुरै के एक स्कूल में पीड़ित के साथ पढ़ती थी
चेन्नई:

एक ‘ट्रांससेक्शुअल' व्यक्ति ने एक महिला सॉफ्टवेयर इंजीनियर की बेरहमी से हत्या कर दी. बताया जा रहा है कि ये दोनों एक दूसरे को बचपन से जानते थे. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. पुलिस ने सोमवार को मामले की जानकारी देते हुए बताया कि संदिग्ध की पहचान वेट्रिमारन के रूप में हुई है जो एक ‘ट्रांस' पुरुष है. वेट्रिमारन ने अपने बचपन के सहपाठी जो कि एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर थी उसे  जिंदा जला दिया.

आरोपी ने अपना नाम पंडी महेश्वरी (पूर्व में महिला) से बदलकर वेट्रिमारन रख लिया था. उसने चेन्नई के दक्षिणी उपनगर केलांबक्कम के पास थलंबूर में शनिवार को आर. नंदिनी को उनके जन्मदिन की पूर्व संध्या पर कुछ सरप्राइज देने के बहाने उनकी आंखों पर पट्टी बांधी, फिर जंजीरों से बांध दिया और जिंदा जला दिया.

पीड़ित मदुरै की 25 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर थी और यहां काम करती थी. नंदिनी को उसके इरादों पर संदेह नहीं हुआ क्योंकि वेट्रिमारन ने कहा था कि वह उसके जन्मदिन से पहले उसे कुछ सरप्राइज देना चाहता है. नंदिनी यहां अपने रिश्तेदार के घर पर रह रही थी.

जांच से पता चला कि 26 वर्षीय पंडी महेश्वरी मदुरै के एक स्कूल में नंदिनी के साथ पढ़ती थी. महेश्वरी द्वारा अपना नाम बदलकर वेट्रीमारन करने के बाद भी नंदिनी ने मानवीय आधार पर अपनी दोस्ती जारी रखी थी, उन्होंने बताया कि दोनों ने यहां एक कंपनी में काम किया था.

ये भी पढ़ें- मोटिवेशनल स्पीकर विवेक बिंद्रा की सोसाइटी में पहुंची पुलिस, पत्नी से मारपीट का है आरोप

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com