'शव के टुकड़े करने के लिए आफताब ने 1 से अधिक हथियार का किया था उपयोग': दिल्ली पुलिस सूत्र

पुलिस के सूत्रों की माने तो श्रद्धा की हत्या के बाद उसके शव के टुकड़े करने के लिए आफ़ताब ने 1 से ज्यादा हथियार का इस्तेमाल किया था.

'शव के टुकड़े करने के लिए आफताब ने 1 से अधिक हथियार का किया था उपयोग': दिल्ली पुलिस सूत्र

पुलिस के सूत्रों की माने तो श्रद्धा की हत्या के बाद उसके शव के टुकड़े करने के लिए आफ़ताब ने 1 से ज्यादा हथियार का इस्तेमाल किया था. आफ़ताब की बॉडी लैंग्वेज एक दम नॉर्मल है. वो जो भी पुलिस को बता रहा है पुलिस उसे सच मानकर नही चल रही है. ये ही वजह है कि उसका पॉलीग्राफी और नार्को करवाया जाएगा. आज पॉलीग्राफी टेस्ट हो जाएगा. नार्को के लिए अधिकारियों ने बताया कि वो आरोपी के ज्यूडिशियल कस्टडी में रहने के दौरान भी किया जा सकता है. क्योंकि आफ़ताब की रिमांड शनिवार को खत्म हो रही है. जो भी सुबूत अभी तक जांच के दौरान पुलिस को मिले है जैसे बॉडी पार्ट्स,हड्डियां, खून के निशान और कपड़े वो सभी CFSL में जांच लिए गए है. जल्द रिपोर्ट आने की उम्मीद.

पुलिस की जांच इस दिशा में भी हो रही है कि आफ़ताब ने कत्ल की साजिश हिमाचल में रची और अंजाम दिल्ली में दिया. पुलिस यह भी जानना चाह रही है कि कही जंगल के पास घर लेना उसकी साजिश का हिस्सा तो नही था. कही ऐसा तो नही कि आफ़ताब को कत्ल के बाद लाश ठिकाने लगाने के लिए महफूज जगह की तलाश थी. दिल्ली में कत्ल के लिए ठिकाना तलाशने में उसने बद्री की मदद ली. बद्री आफ़ताब की इस ख़ौफ़नाक साजिश से अंजना था. कत्ल से पहले आफ़ताब ने महरौली के जंगलों रेकी की थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

ये भी पढ़ें-

Featured Video Of The Day

कुशलता के कदम : USHA और ग्रामीण महिलाएं ग्रामीण पारंपरिक खेलों को दे रही हैं बढ़ावा