दिल्ली में कोरोना से हर दिन हो रही हैं 8-10 मौतें, अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की भी बढ़ी संख्या

दिल्ली में बीते कुछ दिनों से दिल्ली में हर दिन औसतन 8 से 10 मरीजों की मौत हो रही है. वहीं, कोरोना से संक्रमित लोगों के अस्पताल में भर्ती होने की संख्या में भी इजाफा हुआ है. 

दिल्ली में कोरोना से हर दिन हो रही हैं 8-10 मौतें, अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की भी बढ़ी संख्या

नई दिल्ली:

दिल्ली में कोरोना के मामले एक बार फिर बढ़ने लगे हैं. बीते कुछ दिनों में हर दिन दो हजार या उससे ज्यादा नए मामले आ रहे हैं. लेकिन इन सब के बीच मौत का आंकड़ा चिंता और बढ़ाने वाला है. बीते कुछ दिनों से दिल्ली में हर दिन औसतन 8 से 10 मरीजों की मौत हो रही है. वहीं, कोरोना से संक्रमित लोगों के अस्पताल में भर्ती होने की संख्या में भी इजाफा हुआ है. दिल्ली के उपराज्यपाल ने ट्वीट कर लोगों से सतर्क रहने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि "मैं सभी से कोविड नियमों के पालन करने की अपील करता हूं."हम कोविड-19 के संक्रंमण में वृद्धि देख रहे हैं, लगातार उच्च संक्रमण दर और लोग दुबारा संक्रमित हो रहे हैं. यह बेहद जरूरी है कि हम इस बात को समझे कि महामारी अभी खत्म नहीं हुआ है और मैं सबसे अपील करता हूं कि लोग कोरोना नियमों का सख्ती से पालन करें."

स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ. सुनीला गर्ग ने NDTV से बात करते हुए कहा है कि कोरोना से रिकवरी की दर अच्छी है, लेकिन मामले बढ़ रहे हैं और अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में तेजी आई है. 9,000 से अधिक (कोविड) बिस्तरों पर इस समय मरीज हैं. इस समय  2,129 आईसीयू बेड में से 20 पर मरीज भर्ती है वहीं 65 मरीज वेंटिलेशन पर हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि "घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन सावधानी बरतने की जरूरत है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


स्वास्थ्य विभाग द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली ने सोमवार को कोरोना से आठ लोगों की मौत हुई थी. जबकि 1,227 नए मामले सामने आए थे. 14 अगस्त को कोरोना के 2162 नए मामले सामने आए थे.  इस दौरान 5 मरीजों की मौत  हुई थी. वहीं शनिवार को दिल्ली में कोरोना के 2031 नए मामले सामने आए थे. जबकि 9 मरीजों ने अपनी जान गंवाई थी. दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र अब दक्षिण दिल्ली का प्रशासन काफी सजग हो गया है. प्रशासन अब उन लोगों के खिलाफ सख्त कदम उठाएगा जो कोरोना के नियमों का पालन नहीं करेंगे.