विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Mar 24, 2023

कोविड महामारी के दौरान रिहा दोषी, विचाराधीन कैदी 15 दिनों में करें आत्मसमर्पण: सुप्रीम कोर्ट

पीठ ने कहा, ‘‘कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान रिहा किए गए सभी दोषी आत्मसमर्पण के बाद अपनी सजा के निलंबन के लिए सक्षम अदालतों से अनुरोध कर सकते हैं.''

Read Time: 2 mins
कोविड महामारी के दौरान रिहा दोषी, विचाराधीन कैदी 15 दिनों में करें आत्मसमर्पण: सुप्रीम कोर्ट
नयी दिल्ली:

उच्चतम न्यायालय ने कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान कारागारों में भीड़ कम करने के लिए रिहा किए गए सभी दोषियों एवं विचाराधीन कैदियों को 15 दिन में आत्मसर्मण करने का शुक्रवार को आदेश दिया. न्यायमूर्ति एम आर शाह और न्यायमूर्ति सी टी रविकुमार की पीठ ने कहा कि महामारी के दौरान कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए ऐहतियात के तौर पर आपातकालीन जमानत पर रिहा किए गए विचाराधीन कैदी आत्मसमर्पण के बाद सक्षम अदालतों से नियमित जमानत का अनुरोध कर सकते हैं.

पीठ ने कहा, ‘‘कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान रिहा किए गए सभी दोषी आत्मसमर्पण के बाद अपनी सजा के निलंबन के लिए सक्षम अदालतों से अनुरोध कर सकते हैं.'' कई दोषियों और विचाराधीन कैदियों को उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार गठित उच्च अधिकार प्राप्त समिति की सिफारिशों पर वैश्विक महामारी के दौरान विभिन्न राज्यों से रिहा किया गया था. इनमें से अधिकतर कैदियों के खिलाफ ऐसे मामले दर्ज हैं, जो जघन्य प्रकृति के नहीं हैं.

सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला : 'गैरकानूनी संगठन का सदस्य होना UAPA के तहत अपराध'

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
राम सेतु अंतरिक्ष से कैसा दिखता है; कौन नजर आता है अब भी यहां...यूरोप और भारत के नजरिए में क्या है अंतर? 
कोविड महामारी के दौरान रिहा दोषी, विचाराधीन कैदी 15 दिनों में करें आत्मसमर्पण: सुप्रीम कोर्ट
दिल्ली के निलौठी गांव की एक फैक्ट्री में लगी आग, 43 हजार से ज्यादा है इस गांव की आबादी
Next Article
दिल्ली के निलौठी गांव की एक फैक्ट्री में लगी आग, 43 हजार से ज्यादा है इस गांव की आबादी
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;