"कांग्रेस पूरी तरह से खत्म, गुजरात में BJP का सामना 'आप' से": हार्दिक पटेल के कांग्रेस छोड़ने पर बोले AAP सांसद

हार्दिक पटेल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि आज मैं हिम्मत करके कांग्रेस पार्टी के पद और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूँ. मुझे विश्वास है कि मेरे इस निर्णय का स्वागत मेरा हर साथी और गुजरात की जनता करेगी.

डाॅ. संदीप पाठक आप पार्टी के गुजरात प्रभारी हैं.

नई दिल्ली:

राज्यसभा सांसद और आप पार्टी के गुजरात प्रभारी डाॅ. संदीप पाठक ने दावा किया है कि गुजरात विधानसभा चुनाव में इस बार बीजेपी का मुकाबला आप पार्टी से है. आप सांसद संदीप पाठक के अनुसार कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से खत्म हो चुकी है. दरअसल गुजरात चुनाव से पहले हार्दिक पटेल ने कांग्रेस पार्टी छोड़ दी है. हार्दिक पटेल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. जिसके बाद  संदीप पाठक ने एक ट्वीट कर लिखा कि कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से खत्म हो चुकी है.. अब गुजरात में बीजेपी का सामना सीधा 'आप' से होगा. 'आप' ही गुजरात में बदलाव ला सकती है...'आप' ही गुजरात में BJP को हरा सकती है. बता दें कि गुजरात में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. 

इस वजह से छोड़ी हार्दिक पटेल ने पार्टी

हार्दिक पटेल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि आज मैं हिम्मत करके कांग्रेस पार्टी के पद और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूँ. मुझे विश्वास है कि मेरे इस निर्णय का स्वागत मेरा हर साथी और गुजरात की जनता करेगी. मैं मानता हूं कि मेरे इस कदम के बाद मैं भविष्य में गुजरात के लिए सच में सकारात्मक रूप से कार्य कर पाऊँगा.  

ये भी पढ़ें- झारखंड : बोर्ड परीक्षा में कृपाण उतरवाकर बिठाने का मामला, सिखों ने की कार्रवाई की मांग

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी सीएए, जीएसटी, अयोध्या और अनुच्छेद 370 (कश्मीर) जैसे प्रमुख मुद्दों को सुलझाने के रास्ते में रोड़ा बनी. कांग्रेस को लगभग हर राज्य में खारिज कर दिया गया. जब मैं कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से मिला तो वे गुजरात से संबंधित मुद्दों को सुनने से इतर अपने मोबाइल फोन और अन्य मुद्दों में बिजी थे. जब देश कठिन परिस्थितियों से घिरा था तो हमारे ये नेता विदेश में थे. ऐसा लगता है कि कांग्रेस नेतृत्व गुजरात को पूरी तरह से नापसंद करता है और राज्य में उसकी कोई दिलचस्पी नहीं है. कांग्रेस ने युवाओं का भरोसा तोड़ा है.

उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि गुजरात में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को यात्राओं के दौरान लोगों से जुड़ने के बजाय इस बात से फर्क पड़ता है कि राज्य में पार्टी के नेता आ रहे हैं तो उनकी चिकन सैंडविच का इंतजाम हो रहा या है नहीं. पाटीदार नेता लोकसभा चुनाव से ठीक पहले 2019 में कांग्रेस में शामिल हुए थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: बंदरगाहों पर फंसा हजारों टन गेहूं, सिर्फ 13 मई तक वाला ऑर्डर होगा निर्यात