'भारत जोड़ो' यात्रा देश की आत्मा की आवाज़ : राहुल गांधी

राहुल की अगुवाई वाली यह पदयात्रा चार दिसंबर को राजस्थान में दाखिल होने से पहले 12 दिन के भीतर पश्चिमी मध्य प्रदेश के मालवा-निमाड़ अंचल से गुजरेगी.

'भारत जोड़ो' यात्रा देश की आत्मा की आवाज़ : राहुल गांधी

गुजरे छह दिनों में यह यात्रा मध्य प्रदेश में अपना आधे से ज्यादा सफर पूरा कर चुकी है.

इंदौर:

मध्य प्रदेश में ‘‘भारत जोड़ो यात्रा'' के छठे दिन प्रेस वार्ता के दौरान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि ये यात्रा देश की आत्मा की आवाज़ है. देश में बेरोजगारी की समस्या को हल करने की योजना के बारे में एक प्रश्न पर राहुल गांधी ने कहा कि वर्तमान में मुख्य समस्या यह है कि देश की पूरी संपत्ति तीन-चार उद्योगपतियों के हाथों में सिमट कर रह गई है. कांग्रेस देश में अधिक रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए लघु उद्योग बनाने पर ध्यान केंद्रित करेगी. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच सत्ता को लेकर चल रहे टकराव पर राहुल गांधी ने कहा कि दोनों नेता कांग्रेस के लिए अहम हैं.

इंदौर के पास एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, केरल के वायनाड से लोकसभा सदस्य गांधी ने यह भी कहा कि अमेठी से फिर से चुनाव लड़ने का फैसला एक या डेढ़ साल बाद लिया जाएगा. "वर्तमान में, मेरा ध्यान भारत जोड़ो यात्रा पर है." 

कांग्रेस के घोषित कार्यक्रम के मुताबिक यह यात्रा चार दिसंबर को राजस्थान में दाखिल होने से पहले, 12 दिन के भीतर पश्चिमी मध्य प्रदेश के मालवा-निमाड़ अंचल में 380 किलोमीटर का फासला तय करेगी. इस कृषि प्रधान अंचल में आदिवासियों की बड़ी आबादी रहती है. गांधी की अगुवाई वाली यात्रा महाराष्ट्र से गुजरने के बाद ‘‘दक्षिण का द्वार'' कहे जाने वाले बुरहानपुर जिले के बोदरली गांव से मध्य प्रदेश में 23 नवंबर को दाखिल हुई थी. गुजरे छह दिनों में यह यात्रा मध्य प्रदेश में अपना आधे से ज्यादा सफर पूरा कर चुकी है. इस दौरान गांधी की अगुवाई में पदयात्रियों का कारवां बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन और इंदौर जिलों से गुजरा है.

ये भी पढ़ें:-

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गुजरात चुनाव : प्रचार के आखिरी चरण में PM मोदी और CM केजरीवाल की सूरत में रैलियां