सभी दल सहमत होंगे तो जाति आधारित जनगणना स्वीकार करेंगे: सीएम ममता बनर्जी

बनर्जी का यह बयान उस समय आया है जब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में 10 दलों के प्रतिनिधिमंडल ने जाति आधारित जनगणना पर जोर देने के लिए नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी.

सभी दल सहमत होंगे तो जाति आधारित जनगणना स्वीकार करेंगे: सीएम ममता बनर्जी

बनर्जी ने कहा, ‘‘जब चर्चा होगी और अगर आम सहमति बन जाती है, तो मुझे इसे स्वीकार करने में कोई समस्या नहीं होगी.

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को कहा कि अगर सभी राजनीतिक दल आम सहमति पर पहुंच जाते हैं तो वह राष्ट्रव्यापी  जाति आधारित जनगणना को स्वीकार करेंगी. बनर्जी का यह बयान उस समय आया है जब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में 10 दलों के प्रतिनिधिमंडल ने जाति आधारित जनगणना पर जोर देने के लिए नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी.  बनर्जी ने कहा, ‘‘जब चर्चा होगी और अगर आम सहमति बन जाती है, तो मुझे इसे स्वीकार करने में कोई समस्या नहीं होगी. अगर सभी राजनीतिक दल और राज्य आम सहमति पर पहुंचते हैं तो मैं नहीं लडूंगी. राजनीतिक दलों, मुख्यमंत्रियों और केंद्र सरकार को आम सहमति पर पहुंचने दें.''

जातिगत जनगणना पर PM से मिलने के बाद बोले नीतीश कुमार : PM ने हमारी मांग को ठुकराया नहीं

उन्होंने इस मुद्दे पर ज्यादा कुछ कहने से इनकार करते हुए कहा कि एक राज्य से दूसरे राज्य में भावनाएं अलग-अलग होती हैं. बनर्जी ने कहा, ‘‘नीतीश जी ने इस मुद्दे पर अपने सवाल रखे हैं. देखते हैं कि इस पर दूसरे लोग क्या प्रतिक्रिया देते हैं.''

जातिगत जनगणना पर बिहार के नेताओं की PM के साथ अहम बैठक से ठीक पहले BJP के सुर बदले

बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा कि विभिन्न जातियों के आंकड़े विकास योजनाओं को प्रभावी ढंग से तैयार करने में मदद करेंगे क्योंकि उनमें से कई को अब तक उनकी   वास्तविक आबादी के अनुरूप लाभ नहीं मिला है.


इशारों-इशारों में : बिहार में जातिगत जनगणना कराने पर सियासी दलों का अभी ही जोर क्यों?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)