यूपी: BJP MLA का अपनी ही सरकार को लेकर बयान- 'ज्यादा बोलूंगा तो देशद्रोह का केस हो जाएगा'

बीजेपी विधायक राकेश राठौर से सीतापुर में सरकारी ट्रॉमा सेंटर को शुरू किए जाने को लेकर सवाल पूछा गया था. उनका जवाब था, 'मैंने बहुत से कदम उठाए हैं, लेकिन विधायकों की हैसियत ही क्या है? अगर मैं ज्यादा बोलूंगा तो मेरे खिलाफ देशद्रोह की धारा लग जाएगी.'

यूपी: BJP MLA का अपनी ही सरकार को लेकर बयान- 'ज्यादा बोलूंगा तो देशद्रोह का केस हो जाएगा'

सीतापुर के विधायक राकेश राठौर ने अपनी ही सरकार के खिलाफ दिया बयान.

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले के भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक ने अपनी ही पार्टी की सरकार पर हमला बोला है. विधायक ने कहा कि उनके जैसे विधायकों की राज्य में कोई हैसियत नहीं है और मीडिया के सामने बहुत बयानबाजी करने पर उनके खिलाफ देशद्रोह का केस हो जाएगा.

विधायक राकेश राठौर से सीतापुर में सरकारी ट्रॉमा सेंटर को शुरू किए जाने को लेकर सवाल पूछा गया था. यह बिल्डिंग काफी सालों से तैयार है, लेकिन चालू नहीं हो पाई है. सवाल पर उनका जवाब था, 'मैंने बहुत से कदम उठाए हैं, लेकिन विधायकों की हैसियत ही क्या है? अगर मैं ज्यादा बोलूंगा तो मेरे खिलाफ देशद्रोह की धारा लग जाएगी.'

इसपर जब उनसे पूछा गया कि क्या वो यह संकेत दे रहे हैं कि वो एक विधायक के तौर पर अपनी सरकार का प्रतिनिधित्व नहीं कर सकते हैं? तो इसपर उन्होंने कहा कि 'क्या आपको लगता है कि विधायक अपने मन की बात कह सकते हैं? आप जानते हैं कि मैंने पहले भी सवाल उठाए हैं.'

बंगाल में चुनाव जीते दो बीजेपी सांसदों ने विधानसभा से इस्तीफा दिया

राकेश राठौर पहली बार विधायक बने हैं. उन्होंने 2017 के विधानसभा चुनावों के पहले बीजेपी जॉइन किया था. उसके पहले वो निर्दलीय के तौर पर चुनाव लड़ चुके थे और बहुजन समाज पार्टी से भी जुड़े रहे थे.


पिछले साल एक घटना के चलते उनसे बीजेपी के प्रदेश आलाकमान ने सफाई मांग ली थी. सोशल मीडिया पर कथित रूप से उनकी एक ऑडियो क्लिप वायरल हो गई थी, जिसमें वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना कर रहे थे. इस क्लिप में वो कथित रूप से एक अन्य बीजेपी नेता ने बात कर रहे थे, जिसमें वो कोविड-19 महामारी की शुरुआत में लोगों से ताली, थाली बजवाने की पीएम की अपील को गलत बता रहे थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस क्लिप में कथित रुप से विधायक ने कहा था कि 'आप ताली बजाकर कोरोना को खत्म कर देंगे? मूर्खता का रिकॉर्ड तोड़ा जा रहा है. शंख बजाने से कोरोना चला जाएगा? आप जैसे लोग मूर्ख होते है...वो आपकी नौकरी ले लेंगे.'