पुदुच्चेरी में कांग्रेस का संकट गहराया, फ्लोर टेस्ट से पहले एक और विधायक ने पार्टी छोड़ी

Puducherry में कांग्रेस के एक और एमएलए के त्यागपत्र के बाद 22 फरवरी को विधानसभा में कांग्रेस के लिए बहुमत साबित करना मुश्किल होगा. पुदुच्चेरी में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव के पहले कांग्रेस की नारायणसामी की अगुवाई वाली सरकार को विश्वासमत का सामना करना होगा.

पुदुच्चेरी में कांग्रेस का संकट गहराया, फ्लोर टेस्ट से पहले एक और विधायक ने पार्टी छोड़ी

Narayansami के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार अल्पमत में दिख रही है.

पुडुचेरी:

पुदुच्चेरी (Puducherry) में कांग्रेस का संकट गहरा गया है, फ्लोर टेस्ट से एक दिन पहले रविवार को एक और विधायक ने इस्तीफा देने का साथ पार्टी छोड़ दी. पुदुच्चेरी के कांग्रेस विधायक के लक्ष्मीनारायणन ने अपना त्यागपत्र विधानसभा के स्पीकर वीपी शिवाकोझुंडु को सौंपा है. इस त्यागपत्र के बाद कांग्रेस के लिए 22 फरवरी को विधानसभा में बहुमत साबित करना बेहद चुनौतीपूर्ण होगा. पुदुच्चेरी में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के पहले कांग्रेस की नारायणसामी (V. Narayanasamy)  की अगुवाई वाली सरकार को विश्वासमत का सामना करना होगा.

पुदुच्चेरी में वी. नारायण सामी की कांग्रेस सरकार को 22 फरवरी को बहुमत सिद्ध करना है. एलजी पद से किरण बेदी को हटाए जाने के बाद नई उप राज्‍यपाल टी सौंदर्यराजन ने इस बाबत निर्देश दिया है. पांच कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे के बाद सीएम नारायणसामी की सरकार अल्पमत में आ गई है.

हालांकि, मुख्‍यमंत्री ने बहुमत साबित कर लेने का भरोसा जताया है. 30 सदस्‍यों वाली पुदुच्चेरी विधानसभा में कांग्रेस के 15 विधायक थे जबकि डीएमके (DMK) के तीन और एक निर्दलीय का समर्थन भी उसे हासिल था. हालांकि 5 कांग्रेस विधायकों (Congress MLA) के इस्‍तीफे के बाद स्थिति में बदलाव आया है. माना जा रहा है कि कांग्रेस सरकार बहुमत के आंकड़े को जुटाने की स्थिति में नहीं है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com