महाराष्‍ट्र : नागपुर के अस्‍पताल का फोटो वायरल, एक ही बेड पर हैं कोविड-19 के दो मरीज

Nagpur COVID Hospital: अधिकारियों के मुताबिक, प्राइवेट अस्‍पताल के तुलना में खर्च कम होने के कारण लोगों के सरकारी अस्‍पतालों की ओर रुख करने और डॉक्‍टरों द्वारा गंभीर मरीजों को GMCH रेफर किए जाने के कारण स्थिति और बिगड़ी है.

खास बातें

  • नागपुर के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल का है फोटो
  • शहर में सोमवार को 3100 नए कोरोना केस रिकॉर्ड हुए
  • देश में कोरोना महामारी से सबसे ज्‍यादा प्रभावित है महाराष्‍ट्र
मुंंबई:

Maharashtra corona cases update: महाराष्‍ट्र में कोविड-19 के मामलों में आए जबर्दस्‍त उछाल ने चिंता बढ़ा दी है. कोरोना के बढ़ते केसों के कारण अस्‍पतालों पर भी दबाव पड़ा है. राज्‍य के प्रमुख शहर नागपुर के एक अस्‍पताल का एक फोटो वायरल हुआ है जिसमें एक बेड पर कोरोना के दो पेशेंट नजर आ रहे हैं. यह फोटो, कोरोना महामारी से जूझते राज्‍य की स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था की कड़वी सच्‍चाई को बयां करता है. जो फोटो सामने आया है वह नागपुर के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल (GMCH) का है, हालात यह है कि मरीजों से 'भरे' वार्ड में ज्‍यादातर बेड्स में ए‍क के बजाय दो पेशेंट हैं. 

COVID-19 नियमों के उल्लंघन पर एयरपोर्ट पर ही जुर्माना वसूला जा सकता है, DGCA की चेतावनी

अधिकारियों के मुताबिक, प्राइवेट अस्‍पताल के तुलना में खर्च कम होने के कारण लोगों के सरकारी अस्‍पतालों की ओर रुख करने और डॉक्‍टरों द्वारा गंभीर मरीजों को GMCH रेफर किए जाने के कारण स्थिति और बिगड़ी है.हालांकि अस्‍पताल के शीर्ष अधिकारियों ने कहा कि एक बेड पर दो पेशेंट वाली स्थिति को अब 'ठीक कर लिया' गया है. अस्‍पताल के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट अविनाश गावंडे कहते हैं, 'प्रोटोकॉल के अनुसार, मॉडरेट से सीवियर कोविड-19 पेशेंट और शहर के बाहर से आए गंभीर रूप से बीमार पेशेंट ही अस्‍पताल में भर्ती कराए जा रहे हैं.'

कोविड बेड के लिए अस्‍पताल नहीं, 'वार रूम्‍स' के जरिये होगा आवंटन : मुंबई के लिए योजना

0m3i8j3oGMCH में बड़ी संख्‍या में मरीज इलाज के लिए भर्ती हैं 

देश में कोविड-19 के केस तेजी से बढ़ने की स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताई वजह...


उन्‍होंने कहा, 'GMCH में वर्कलोड काफी जबर्दस्‍त है. हम बेड की संख्‍या बढ़ा रहे हैं. हालात अब सामान्‍य हैं और एक बेड पर एक ही पेंशट है.' नागपुर शहर में सोमवार को 3100 नए कोरोना केस रिकॉर्ड किए गए और 55 लोगों की मौत कोरोना संक्रमण के चलते हुए. शहर में अब तक कोरोना के 2,21,997 केस आ चुके हैं.

gkp7qvoअधिकारियों के अनुसार, लोगों के बड़ी संख्‍या में सरकारी अस्‍पताल की ओर रुख करने के कारण स्थिति बिगड़ी है

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बीजेपी के नेता चंद्रकांत बावनकुले ने आरोप लगाया कि कोविड के पेशेंट को उसी वार्ड में भर्ती किया जा रहा है जहां दूसरी बीमारी के मरीजों का इलाज किया जा रहा है. राज्‍य के पूर्व मंत्री बावनकुले कहते हैं, 'नागपुर में बेड ही नहीं बचे हैं और ऐसे समय जब महामारी विकराल रूप में है, सरकार कुंभकर्ण की नींद में सो रही है.'उन्‍होंने कहा कि नागपुर से महाराष्‍ट्र सरकार में तीन मंत्री है लेकिन इनमें से एक भी शहर में नहीं है. बावनकुले ने आरोप लगाया, 'कोई प्‍लानिंग नहीं है और ये मंत्री स्थिति को लेकर चिंतित नहीं हैं, वे और कहीं व्‍यस्‍त हैं.'गौरतलब है कि देश में महाराष्‍ट्र राज्‍य, कोरोना महामारी से सबसे ज्‍यादा प्रभावित है.