धान की खरीद रविवार से करने का फैसला किसानों की जीत, 24 घंटे में खरीद और भुगतान हो: कांग्रेस

उपभोक्ता मामलों के राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर से मुलाकात के बाद पंजाब एवं हरियाणा में धान की खरीद तीन अक्टूबर से आरंभ किए जाने की घोषणा की.

धान की खरीद रविवार से करने का फैसला किसानों की जीत, 24 घंटे में खरीद और भुगतान हो: कांग्रेस

धान की खरीद रविवार से करने को कांग्रेस ने बताया किसानों की जीत. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस (Congress) ने पंजाब (Punjab) और हरियाणा (Haryana) में धान की खरीद तीन अक्टूबर से आरंभ करने के फैसले को किसानों की जीत करार देते हुए शनिवार को कहा कि मंडियो में पड़े एक-एक दाने की 24 घंटे के भीतर खरीद की जाए और इसका भुगतान सुनिश्चित हो. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘‘किसानों की धान ख़रीद को 11 अक्टूबर तक टालने के मोदी सरकार के अहंकारी फ़ैसले को आख़िर किसानों के दबाब में वापस लेना ही पड़ा. कल यह मांग कांग्रेस ने उठाई थी. पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी खुद प्रधानमंत्री से मिले थे. यह किसानों की ज़बरदस्त जीत है. 3 काले क़ानून भी ऐसे ही रद्द करने पड़ेंगे.''

उन्होंने कहा, ‘‘मंडियों में पड़ा एक-एक दाना 24 घंटे में ख़रीदा जाए व भुगतान हो. ख़रीद मापदंड 2021-22 फ़ौरन जारी हों. बेमौसमी बारिश व ख़रीद में देरी को देखते हुए फसल में नमी की मात्रा में 25% तक छूट दी जाए. ख़राब हुई फसल का मुआवज़ा 7 दिन में दें.''

इससे पहले, उपभोक्ता मामलों के राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर से मुलाकात के बाद पंजाब एवं हरियाणा में धान की खरीद तीन अक्टूबर से आरंभ किए जाने की घोषणा की.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ आज कृषि भवन में हरियाणा के माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टरजी के नेतृत्व में धान की खरीद को लेकर एक प्रतिनिधिमंडल मिला. 3 अक्टूबर से हरियाणा एवं पंजाब में धान की खरीद शुरू हो रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार किसानों के हित के लिए सदैव तत्पर है.''

उधर, सुरजेवाला ने एक बयान जारी कर हरियाणा में पुलिस उप निरीक्षक (पुरूष) की भर्ती में घोटोले का आरोप लगाया और कहा कि राज्य कर्मचारी चयन आयोग को बर्खास्त कर उच्च न्यायालय की निगरानी में इस पूरे मामले की जांच होनी चाहिए.

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘अब उप निरीक्षक (पुरुष) की भर्ती में एक और बड़ा घोटाला व गड़बड़झाला सामने आया है. हरियाणा में 1,58,207 युवाओं ने पुलिस उप निरीक्षक (पुरुष) के 400 पदों लिए आवेदन दिया तथा 1,07,000 युवाओं ने 26 सितंबर, 2021 को परीक्षा दी. एक बार फिर हरियाणा के युवाओं के भविष्य की बोली लगाकर बेच दिया गया.''
सुरजेवाला ने दावा किया कि अब उस पर पर्दा डालने का षडयंत्र चल रहा है तथा इससे संबंधित गिरोह के सरगनाओं को बचाने में पूरी भाजपा-जजपा सरकार लगी है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यह भी पढ़ेंः



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)