जातिगत जनगणना के आलोचकों को नीतीश कुमार का जवाब, समर्थन में दिया यह तर्क

बिहार में भाजपा (BJP) को छोड़कर सारे दल खुलकर जातिगत जनगणना (Caste Census) के मुद्दे पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के नेतृत्व में जहां एक और खड़े हैं वहीं इसकी आलोचना भी तेज हो रही है. ख़ासकर ये तर्क दिया जा रहा है कि इससे सामाजिक तनाव होगा.

जातिगत जनगणना के आलोचकों को नीतीश कुमार का जवाब, समर्थन में दिया यह तर्क

पटना:

बिहार में भाजपा (BJP) को छोड़कर सारे दल खुलकर जातिगत जनगणना (Caste Census) के मुद्दे पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के नेतृत्व में जहां एक और खड़े हैं वहीं इसकी आलोचना भी तेज हो रही है. ख़ासकर ये तर्क दिया जा रहा है कि इससे सामाजिक तनाव होगा. जनता दल यूनाइटेड (JDU) के सुप्रीमो नीतीश कुमार इससे अवगत हैं और इसलिए उन्होंने आलोचकों को दो टूक शब्दों में कहा कि य देश के हित में है और हो जायेगा तो सबको इसका लाभ मिलेगा. नीतीश ने कहा कि 'कुछ लोग इसके ख़िलाफ़ बोलते हैं और लिखते हैं लेकिन ऐसी बात नहीं है. ये समाज को बांटने के लिए नहीं है बल्कि समाज को एकजुट करने के लिए है.' 

नीतीश से जब पूछा गया कि क्या प्रधानमंत्री को जो पहले इस सम्बंध में मांग करते हुए मेमोरेडम दिया गया था उसका जवाब आया तो उन्होंने कहा कि अभी कहां आया है और आयेगा तो तुरंत बतायेंगे. नीतीश ने कहा कि सबको ले जाकर अपनी बात कह दिए हैं और निर्णय प्रधानमंत्री और केंद्र सरकार को लेना है. लेकिन अभी शुरुआत उसकी हुई नहीं है इसलिए किसी को मालूम नहीं है. यहां नीतीश कुमार का ये कहना था कि जनगणना की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है इसलिए क्या स्वरूप होगा, किसी को मालूम नहीं है. लेकिन उन्होंने माना कि अभी कुछ आया नहीं है इसलिए वो कुछ नहीं कह सकते.

- - ये भी पढ़ें - -
* तेजस्वी यादव ने दोहराई जातिगत जनगणना की मांग
* जातीय जनगणना के मुद्दे पर पीएम मोदी के फैसले का कब तक करेंगे इंतजार, नीतीश कुमार ने दिया ये जवाब
* सभी दल सहमत होंगे तो जाति आधारित जनगणना स्वीकार करेंगे: सीएम ममता बनर्जी
* https://ndtv.in/india-news/caste-census-live-updates-bihar-cm-nitish-kumar-and-tejashwi-yadav-to-meet-pm-modi-today-on-2516365

लेकिन उन्होंने फिर दोहराया कि देश के विभिन्न राज्यों में इस मांग के समर्थन में पार्टियां और नेता खुल कर आमने आ रहे हैं. ये कहते हुए कि ये देश हित में है, नीतीश ने दावा किया कि समाज के किस तबके को आगे निकालना है, बढ़ाना है, ये जातिगत जनगणना होने पर ही जानकारी मिलेगी. इसलिए उनका कहना था कि वो बार बार मांग करते हैं. 


इससे पूर्व रविवार को विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा था कि जल्द पूरे देश में दूसरे दलों के सहयोग से उनकी पार्टी जनांदोलन करेगी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने तो एक कमिटी का भी गठन किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पीएम मोदी से मिले बिहार के 11 नेता, प्रतिनिधिमंडल ने जातिगत जनगणना की मांग की