हैदराबाद: 9 साल की बच्ची के लिए घातक साबित हुआ छोटे भाई को 'डराने का खेल', चली गई जान

23 मार्च को नेनावत श्रीनिधि हैदराबाद के सैदापेट इलाके के खाजा कॉलोनी में अपने घर में मृत पाई गई थी. उसके माता-पिता मजदूरी का काम करते हैं और घटना के वक्त वे घर में मौजूद नहीं थे. 

हैदराबाद: 9 साल की बच्ची के लिए घातक साबित हुआ छोटे भाई को 'डराने का खेल', चली गई जान

प्रतीकात्मक तस्वीर

हैदराबाद:

हैदराबाद में एक लड़की के फंदे से लटकने का मामला सामने आया है. पिछले हफ्ते 9 साल की एक बच्ची का शव फंदे से लटकते हुए पाया गया था. अब बच्ची के परिवारवालों वालों ने उसकी मौत की परिस्थितियों पर संदेह जताया है. पुलिस ने इस मामले में पहले ही संदिग्ध मौत का मामला दर्ज किया था. हालांकि, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि संभवना है कि वह फांसी लगाना नहीं चाहती थी, लेकिन भाई को डराने के लिए किए गए नाटक में गलती से उसकी जान चली गई.

23 मार्च को नेनावत श्रीनिधि हैदराबाद के सैदापेट इलाके के खाजा कॉलोनी में अपने घर में मृत पाई गई थी. उसके माता-पिता मजदूरी का काम करते हैं और घटना के वक्त वे घर में मौजूद नहीं थे. 

सैदाबाद पुलिस इंस्पेक्टर के श्रीनिवास ने एनडीटीवी को बताया कि पड़ोसियों का कहना है कि घटना के वक्त मृतका के भाई-बहन और चचेरे भाई-बहन मौजूद थे. उनके द्वारा सूचना के बाद उन्हें इस घटना की जानकारी मिली. जब वे लोग पहुंचे तो लड़की की मौत हो चुकी थी. ऐसा प्रतीत होता है कि वह छत से रस्सी के सहारे लटकी हुई थी. उसकी बहन ने कुर्सी पर चढ़कर रस्सी काटी. 

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, ऐसा प्रतीत होता है कि लड़की अपने छोटे भाई को उसके साथ मंदिर जाने से रोक रही थी. कहा जा रहा है कि मृतका ने उसे धमकी दी कि अगर वह उसके साथ जाएगा तो वह खुद को फांसी पर लटका लेगी.


एक पुलिस अधिकारी ने कहा, "लड़की ने संभवत: अपने छोटे भाई को डराने के लिए यह किया था, जो कि शायद उलटा पड़ गया और उसकी जान चली गई. उन्होंने कहा कि पोस्ट मॉर्टम आधारित अंतिम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है." 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com