NCP कृषि सुधारों के खिलाफ नहीं लेकिन रद्द हों तीनों कृषि कानून : नवाब मलिक

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक (Nawab Malik) ने कहा कि NCP सुधारों के खिलाफ नहीं है लेकिन मांग करती है कि इन विवादास्पद कृषि विपणन कानूनों को रद्द किया जाए.

NCP कृषि सुधारों के खिलाफ नहीं लेकिन रद्द हों तीनों कृषि कानून : नवाब मलिक

नवाब मलिक NCP के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • NCP ने किया कृषि कानूनों का विरोध
  • कहा- सरकार वापस ले ये कृषि कानून
  • NCP के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं नवाब मलिक
मुंबई:

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक (Nawab Malik) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के उस बयान का खंडन किया है, जिसके तहत पीएम ने संसद में अपने भाषण में कहा था कि NCP सुप्रीमो शरद पवार (Sharad Pawar) ने पहले इन कृषि सुधारों का समर्थन किया था. मलिक ने कहा कि NCP सुधारों के खिलाफ नहीं है लेकिन मांग करती है कि इन विवादास्पद कृषि विपणन कानूनों को रद्द किया जाए.

पीएम मोदी के बयान का खंडन करते हुए नवाब मलिक ने एक वीडियो जारी कर कहा, 'शरद पवार जी ने कृषि मंत्री रहते हुए एक मॉडल एक्ट के लिए आम सहमति बनाने की कोशिश की थी. UPA सरकार के मॉडल एक्ट और नए कृषि कानूनों में बहुत बड़ा फर्क है. या तो मोदी साहब इसे समझ नहीं पाए या फिर समझ गए हैं लेकिन लोगों को मूर्ख बना रहे हैं. प्रधानमंत्री को नए कृषि कानूनों और मॉडल एक्ट के बीच फर्क को समझना चाहिए.'

कृषि कानूनों के विरोध में महाराष्ट्र के 21 जिलों के किसान प्रदर्शन करने मुंबई पहुंचे

नवाब मलिक ने आगे कहा कि NCP या किसी भी अन्य पार्टी ने सुधारों का विरोध नहीं किया है लेकिन प्रधानमंत्री और केंद्र के लिए वर्तमान कानूनों को आगे बढ़ाना सही नहीं है, जबकि इसके लिए उन्हें सर्वसम्मति बनाने की आवश्यकता थी. सरकार को इन कानूनों को वापस लेना चाहिए.

कृषि कानूनों के बचाव में PM मोदी ने मनमोहन सिंह का किया जिक्र, कांग्रेस पर U-टर्न लेने का लगाया आरोप


शरद पवार के UPA सरकार में कृषि मंत्री रहते हुए इन कृषि कानूनों का समर्थन करने पर पीएम मोदी ने संसद में कहा, 'जो पलट रहे हैं, वे शायद उनसे (पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह) से राजी होंगे. भले वे कर पाए या नहीं कर पाए लेकिन सभी ने इस बात की वकालत की कि ऐसा किया जाना चाहिए. पिछली हर सरकार ने कृषि सुधारों की बात की थी, लेकिन अब कई पार्टियों ने U-टर्न ले लिया है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : किसान और सरकार आमने-सामने



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)