नांदेड़ में लॉकडाउन की उड़ी धज्जियां, प्रदर्शनकारियों ने गुरुद्वारा के पास बैरीकेडिंग तोड़ उपद्रव किया

एसपी नांदेड़ प्रमोद कुमार शेवाले का कहना है कि उग्र प्रदर्शनकारियों ने बैरीकेडिंग को तहस-नहस कर धावा बोल दिया. चूंकि कोविड-19 के कारण होला मोहल्ला मार्च निकालने की इजाजत नहीं थी.

मुंबई:

महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले में लॉकडाउन को तोड़कर हजारों लोग सोमवार को गुरुद्वारे के पास लगी बैरीकेडिंग तोड़कर सड़क पर आ गए. नांदेड़ में कोरोना के मामले बढ़ने की वजह से स्थानीय प्रशासन ने पाबंदी लगा रखी थी. इसके बावजूद सिख समाज के लोग हल्ला बोल मोर्चा निकालना चाहते थे. मोर्चा रोकने के लिए पुलिस ने गुरुद्वारा के पास बैरीकेडिंग लगा रखी थी. लेकिन नाराज भीड़ ने खुलेआम तलवार लहराते हुए बैरीकेडिंग को ध्वस्त कर दिया. पुलिसकर्मी हजारों की भीड़ और तलवार से लैस लोगों के आगे बेबस नजर आए. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर हमला कर दिया. पुलिस की गाड़ियों को भी नुकसान पहुंचाया. इस हमले में 4 पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं.

मुंबई में नाइट कर्फ्यू के दौरान ऑपरेशन ऑलआउट, 31 फरार आरोपी गिरफ्तार

रास्ते में भी कई जगह उपद्रव मचाया. इसमें चार पुलिसकर्मी घायल हुए हैं.एसपी नांदेड़ प्रमोद कुमार शेवाले का कहना है कि उग्र प्रदर्शनकारियों ने बैरीकेडिंग को तहस-नहस कर धावा बोल दिया. चूंकि कोविड-19 के कारण होला मोहल्ला मार्च निकालने की इजाजत नहीं थी.गुरुद्वारा कमेटी को इसकी सूचना दी गई थी और उनका कहना था कि वो गुरुद्वारे के अंदर इसका आयोजन करेंगे.

कमेटी ने कहा था कि वे इसका आयोजन गुरुद्वारा परिसर के अंदर स्वयं कर लेंगे. लेकिन 4 बजे के करीब गेट के पास निशान साहिब लाया गया. वे पुलिसकर्मियों के साथ बहस करने लगे. 300 से 400 के करीब युवाओं ने बैरीकेडिंग तोड़ दिया और बाहर प्रदर्शन करने लगे. उपद्रव के दौरान पुलिसकर्मियों को चोटें आई हैं. एफआईआर पंजीकृत कर जांच की जा
रही है.एक viral video में साफ देखा जा सकता है कि हाथों में तलवार लिए हुए भीड़ बैरीकेडिंग तोड़ते हुए गुरुद्वारे से बाहर आ गई. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पार्टी पर हमला किया, वाहनों में तोड़फोड़ की.  

नांदेड़ रेंज के पुलिस उपमहानिरीक्षक निसार तंबोली ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि चार में से एक कांस्टेबल की हालत गंभीर है और पुलिस की छह गाड़ियों को भीड़ ने क्षतिग्रस्त कर दिया है. तम्बोली ने कहा कि भारतीय दंड सहिंता (आईपीसी) की धारा 307 (हत्या की कोशिश), 324 (खतरनाक हथियारों से चोट पहुंचाने वाले), 188 (लोक सेवक के आदेश की अवहेलना), 269 (लापरवाही से संक्रमण फैलने की संभावना) के तहत कम से कम 200 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाएगी. उन्होंने आगे कहा कि हिंसा में शामिल लोगों को गिरफ्तार किया जाएगा.

महाराष्ट्र में कोरोना के रिकॉर्ड 40000 से ज्यादा नए मामले दर्ज, 108 और मरीजों की मौत


राज्य में संक्रमण के मामले हर दिन बढ़ते ही जा रहे हैं. पिछले 24 घंटे में यहां 40 हजार से भी ज्यादा संक्रमित मिले हैं जो महाराष्ट्र कोरोना महामारी शुरू होने के बाद से अब तक की सबसे बड़ी संख्या है. पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में 40,414 नए मरीज सामने आए हैं जिसके बाद यहां संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ कर 2,71,3875 हो गया. शनिवार को राज्य में 35,726 नए मरीज मिले थे. वहीं 108 और मरीजों की मौत होने से यहां मृतक संख्या बढ़कर 54,181 हो गई. पिछले 24 घंटे में 17,874 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई जिन्हें मिलाकर राज्य में अब तक 2,33,2453 लोग इस वायरस के संक्रमण को मात दे चुके हैं. देश के कुल मामलों का 60 फीसदी के करीब अकेले महाराष्ट्र में रिपोर्ट हो रहे हैं. राज्य में रविवार से नाइट कर्फ्यू भी लगाया गया है, ताकि कोरोना संक्रमण पर काबू पाया जा सके.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com