ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री के साथ जयशंकर की बैठक, अफगानिस्तान और हिंद-प्रशांत क्षेत्र पर फोकस

पायने और ऑस्ट्रेलियाई रक्षा मंत्री पीटर ड्यूटन शनिवार को निर्धारित ‘टू प्लस टू’ मंत्रिस्तरीय वार्ता में हिस्सा लेने के लिए तीन दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को यहां पहुंचे.

ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री के साथ जयशंकर की बैठक, अफगानिस्तान और हिंद-प्रशांत क्षेत्र पर फोकस

मारिसे पायने का स्वागत करके प्रसन्नता : एस जयशंकर

नई दिल्ली:

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच ‘टू प्लस टू' मंत्रिस्तरीय वार्ता से पहले अपनी ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष मारिसे पायने से शनिवार को बात की. समझा जाता है कि दोनों विदेश मंत्रियों के बीच अफगानिस्तान के घटनाक्रम और हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग को मजबूत करने पर बातचीत हुई. जयशंकर ने ट्वीट किया, “ऑस्ट्रेलिया की मेरी मित्र ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मारिसे पायने का स्वागत करके प्रसन्नता हो रही है. अब हम अपनी चर्चाएं शुरू कर रहे हैं.”

पायने और ऑस्ट्रेलियाई रक्षा मंत्री पीटर ड्यूटन शनिवार को निर्धारित ‘टू प्लस टू' मंत्रिस्तरीय वार्ता में हिस्सा लेने के लिए तीन दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को यहां पहुंचे. वार्ता में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और जयशंकर करेंगे. दोनों रक्षा मंत्रियों ने शुक्रवार को अफगानिस्तान में कमजोर सुरक्षा स्थिति और तालिबान शासित अफगानिस्तान से आतंकवाद के प्रसार की आशंका से संबंधित अपनी "सामान्य चिंताओं" पर चर्चा की. 

पिछले कुछ वर्षों में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रक्षा और सैन्य सहयोग बढ़े हैं. पिछले साल जून में, भारत और ऑस्ट्रेलिया ने अपने संबंधों को व्यापक रणनीतिक साझेदारी तक बढ़ाया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं उनके ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष स्कॉट मॉरिसन के बीच एक ऑनलाइन शिखर सम्मेलन के दौरान साजो-सामान जुटाने के संबंध में सैन्य ठिकानों तक पारस्परिक पहुंच के लिए एक ऐतिहासिक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे. 

ऑस्ट्रेलियाई नौसेना हाल ही में मालाबार नौसैन्य अभ्यास का हिस्सा थी जिसमें भारत, अमेरिका और जापान की नौसेनाएं भी शामिल थीं.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com



 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)