"ऑक्सीजन मिलती रही तो मरीज़ों के लिए बढ़ा सकते हैं बेड्स" : एनडीटीवी से बोले अपोलो हॉस्पिटल के अधिकारी 

इस बार मरीजों की संख्या बहुत ज़्यादा है इसलिए ऑक्सीजन भी ज़्यादा लग रही है और मरीज़ ज़्यादा वक़्त भी ले रहे हैं. पहले वाला स्ट्रेन थोड़ा हल्का था. 

पात्र लोगों को लेनी चाहिए कोरोना वैक्सीन : ठाकुर (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus) के नए मामलों में लगातार तेजी आ रही है. कोरोना के मामलों में उछाल से देश के कई हिस्सों में ऑक्सीजन, बेड और जरूरी दवाओं का संकट बढ़ गया है. कोरोना से उपजी चुनौतियों पर अपोलो के उपाध्यक्ष (ऑपरेशंस एंड कम्युनिकेशंस) करन ठाकुर ने एनडीटीवी से बातचीत की. उन्होंने कहा कि पिछले हफ्ते तक ऑक्सीजन को लेकर दिक्कत आ रही थी लेकिन अब स्थिति पहले से बेहतर है. उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन मिलती रही तो बेड बढ़ाने पर विचार किया जा सकता है. ठाकुर ने पात्र लोगों से वैक्सीन लगाने की अपील भी की है. 

सवाल:- ऑक्सीजन को लेकर अभी क्या स्थिति है? 
जवाब:- पिछले हफ़्ते ऑक्सीजन को लेकर बहुत समस्या थी. अब स्थिति बेहतर है, हमें ऑक्सीजन मिल रही है. हमें ऑक्सीजन मिलती रहेगी, इसका आश्वासन मिला है. ऑक्सीजन मिलती रहेगी तो हम मरीज़ों पर ध्यान दे सकते हैं. 

सवाल:- अगर ऑक्सीजन मिलती रहे तो क्या आप बेड्स बढ़ाने की स्थिति में हैं? 
जवाब:- देखिए संसाधनों की कमी तो है, लेकिन हमें ऑक्सीजन मिलती रहे तो हम बेड्स बढ़ाने की सोच सकते हैं. 

सवाल:- अभी दो दिन पहले अपोलो में डॉक्टरों पर हमला हुआ, हम देश में दूसरे अस्पतालों में भी देखते हैं ऐसा, कितना मुश्किल है हेल्थ वर्कर्स के लिए? 
जवाब:- यह महामारी (Pandemic) लंबा खिंचता जा रहा है. लोगों और स्वास्थ्यकर्मियों में भी थकान होती जा रही है. हम लोगों से यही अपील कर रहे हैं कि थोड़ा संयम बरतें. डॉक्टर भी इंसान हैं. हमें इसे मिलकर लड़ना है. 

सवाल:- इस बार क्या मरीज़ों को ठीक होने में ज़्यादा वक़्त लग रहा है, क्या ऑक्सीजन ज़्यादा लग रही है? 
जवाब:- इस बार मरीजों की संख्या बहुत ज़्यादा है इसलिए ऑक्सीजन भी ज़्यादा लग रही है और मरीज़ ज़्यादा वक़्त भी ले रहे हैं. पहले वाला स्ट्रेन थोड़ा हल्का था. 

READ ALSO: "ऐसा लगता है कि आप चाहते हैं कि लोग मरते रहें" : रेमडेसिविर को लेकर केंद्र के प्रोटोकॉल पर दिल्ली हाईकोर्ट

सवाल:- 1 तारीख़ से 18 साल से ऊपर वालों के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो रहा है, आप लोग कितना तैयार हैं? 
जवाब:- हम लोग पूरी तरह से तैयार हैं, जो लोग इसके लिए योग्य हैं उन्हें वैक्सीन लेनी चाहिए. हमने देखा है कि हमारे यहां जिन्होंने वैक्सीन ली है उन्हें कोविड हुआ भी है तो लक्ष्ण बहुत हल्के हैं और मृत्यु दर (Mortality) न के बराबर है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com