पुलिस से किसानों का 'सिर फोड़ने' को कहने वाले हरियाणा के अफसर के खिलाफ होगी कार्रवाई : उप मुख्यमंत्री

पुल‍िस से क‍िसानों का 'स‍िर फोड़ने' को कहने वाले हरियाणा के अफसर पर कार्रवाई होगी. राज्य के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने आज कहा कि अधिकारी को उनके ट्रेनिंग के वक्त संवेदनशीलता का पाठ पढ़ाया गया था.

नई दिल्ली:

हरियाणा के करनाल में कल शनिवार को भाजपा की बैठक से पहले किसानों के विरोध के बाद हुए पुलिस के लाठीचार्ज का मामला गरमाता ही जा रहा है. कल भाजपा की बैठक से पहले करनाल के एसडीएम का एक वीडियो वायरल हुआ था. वीडियों में अधिकारी पुलिसकर्मियों से कहते नजर आ रहे थे कि जो भी किसान विरोध करे, उसका सिर फोड़ दो. इसके बाद किसानों पर लाठीचार्ज भी हुआ था. लाठीचार्ज में कम से कम 10 लोगों को चोट आई थी. किसानों पर हुए लाठीचार्ज की चारों तरफ आलोचना हुई थी. आज हरियाणा के उप मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों के लिए पुलिस को ऐसा आदेश देने वाले अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई होगी.

'किसानों से माफी मांगें हरियाणा के CM', मेघालय के गवर्नर ने की मांग- SDM को भी करें तुरंत बर्खास्त

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने आज कहा कि हरियाणा के एक सिविल अधिकारी को कल एक विरोध प्रदर्शन में पुलिसकर्मियों को किसानों के "सिर फोड़ने" के लिए कहते हुए देखा गया था, जिसे कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा.
करनाल उप-मंडल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) आयुष सिन्हा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सोशल मीडिया पर सामने आया था, जिसमें पुलिसकर्मियों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया था कि भाजपा नेताओं के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को "सिर में चोट" लगे.

चौटाला ने कहा, "2018 बैच के आईएएस (भारतीय प्रशासनिक सेवा) अधिकारी का वीडियो वायरल हो गया है. अधिकारी ने बाद में शायद स्पष्टीकरण दिया कि वह दो रातों से सोए नहीं थे ... लेकिन उन्हें पता होना चाहिए कि किसान 365 दिनों से सोए नहीं हैं. कार्रवाई होगी, उनके प्रशिक्षण के दिनों में अधिकारियों को संवेदनशील रहने के लिए प्रशिक्षित किया गया था."

भाजपा की एक बैठक के विरोध में हरियाणा के करनाल की ओर जा रहे किसानों के एक समूह पर राज्य पुलिस द्वारा लाठीचार्ज करने के बाद शनिवार को कुछ 10 लोग घायल हो गए, जहां मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, राज्य भाजपा प्रमुख ओम प्रकाश धनखड़ व अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद रहे.

वीडियो में, करनाल के उप-मंडल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) आयुष सिन्हा पुलिसकर्मियों के एक समूह के सामने खड़े दिखाई दे रहे हैं और उन्हें निर्देश दे रहे हैं कि कोई भी विरोध करने वाला किसान क्षेत्र में एक निश्चित बैरिकेड से आगे न जाए.


Video : उज्जैन में भी मुस्लिम शख्स से जबरन लगवाए जय श्रीराम के नारे, वीडियो वायरल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सिन्हा वीडियो में कहते हुए सुनाई दे रहे हैं, "यह बहुत सरल और स्पष्ट है, वह कोई भी हो, चाहे वह कहीं से भी हो, किसी को भी वहां पहुंचने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए. हम किसी भी कीमत पर इस रेखा को नहीं टूटने देंगे. बस अपनी लाठी उठाओ और उन्हें जोर से मारो ... यह बहुत स्पष्ट है, किसी भी निर्देश की कोई आवश्यकता नहीं है, बस उन्हें जोर से पीटें. अगर मैं यहां एक भी प्रदर्शनकारी को देखता हूं, तो उनके सिर फोड़ते देखना चाहता हूं."