महाराष्ट्र : कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके लोग जा सकेंगे मॉल, रात 10 बजे तक खुल सकेंगे रेस्टोरेंट

महाराष्‍ट्र में कोरोना के मामलों में आई कुछ कमी को देखते हुए प्रतिबंधों में रियायत दी जा रही है. राज्‍य में कोविड वैक्‍सीन की दोनों डोज ले चुके लोगों को अब रविवार से मॉल्‍स में एंट्री मिल सकेगी. यही नहीं, रेस्‍टोरेंट को भी 50 फीसदी की क्षमता के साथ रात 10 बजे तक खोलने की इजाजत दी गई है.

महाराष्ट्र : कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके लोग जा सकेंगे मॉल, रात 10 बजे तक खुल सकेंगे रेस्टोरेंट

महाराष्‍ट्र में कोरोना के मामलों में आई कमी के बाद प्रतिबंधों में रियायत दी गई है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

मुंबई:

Maharashtra:महाराष्‍ट्र में कोरोना के मामलों में आई कमी को देखते हुए प्रतिबंधों में रियायत दी जा रही है. राज्‍य में  कोविड वैक्‍सीन की दोनों डोज ले चुके लोगों को अब रविवार से मॉल्‍स में एंट्री मिल सकेगी. यही नहीं, रेस्‍टोरेंट को भी 50 फीसदी की क्षमता के साथ रात 10 बजे तक खोलने की इजाजत दी गई है.महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कैबिनेट की बैठक के बाद संवाददाताओं को जानकारी देते हुए कहा, '15 अगस्त से हम राज्य में और रियायतें देने जा रहे हैं. कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके लोग अब लोकल ट्रेनों में सफर कर सकेंगे. राज्य सरकार ने लोगों को मासिक या त्रिमासिक पास जारी करने के निर्देश दे दिए हैं.

दिल्‍ली में अगस्‍त में चौथी बार कोरोना से एक भी मौत नहीं, 24 घंटों में आए 37 नए मामले

उन्होंने बताया कि राज्य में होटल और रेस्टोरेंट 50 फीसदी क्षमता के साथ खुल सकते हैं. खुले इलाके में आयोजित शादी समारोह में 200 लोगों के शामिल होने की इजाजत दी गई है जबकि बंद हॉल में बैठने की क्षमता के 50 फीसदी का उपयोग किया जा सकता है.रेस्टोरेंट 50 फीसदी क्षमता के साथ रात 10 बजे तक खुले रह सकते हैं.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, 'सरकार यह भी चाहती है कि प्राइवेट दफ्तर अपने कर्मचारियों की टाइमिंग अलग-अलग रखें. दुकानों को भी रात 10 बजे तक खुला रखने की इजाजत दे दी गई है. लेकिन सिनेमा घर, थ‍ियेटर और पूजा स्थल अब भी बंद रहेंगे.'


वैक्सीन की दोनों डोज़ लगने बाद भी केरल में 40,000 से ज़्यादा हुए कोरोना संक्रमित : सूत्र

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि महाराष्‍ट्र राज्‍य के एक बड़े हिस्‍सों में कोरोना के केसों की संख्‍या कम हुई है.राज्‍य के 6 ज़िलों से मंगलवार को कोविड-19 (Covid-19 case) का एक भी केस नहीं आया जबकि चार ज़िले तो कोविड मुक्त होने की राह पर हैं.कभी कोविड हॉटस्पॉट रहे विदर्भ इलाक़े में या तो केस नहीं आ रहे हैं या इक्का-दुक्का आ रहे हैं. चिंता का विषय फिलहाल पुणे इलाक़े वाले पश्चिम महाराष्ट्र  है जहां से 70 फ़ीसदी केस आ रहे हैं. अप्रैल तक कोविड का क़हर झेल रहे विदर्भ के ग्यारह ज़िलों में या तो कोई कोविड केस नहीं मिल रहा या महज दो-चार केस मिल रहे हैं. इन आंकड़ों के आधार पर कहा जा सकता है कि Maharashtra का बड़ा हिस्सा कोविड मुक्त होने की राह पर है.