दिल्ली पुलिस ने पाकिस्तान में ट्रेंड दो आतंकियों समेत 6 को दबोचा, कई राज्यों से हुई गिरफ्तारी

पुलिस ने पाकिस्तान से ट्रेनिंग लेकर आये 2 आतंकियों समेत 6 लोगों को गिरफ्तार भी किया है. ये गिरफ्तारियां यूपी, महाराष्ट्र और दिल्ली से हुई हैं.

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पाकिस्तान द्वारा संचालित टेरर मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने पाकिस्तान से ट्रेनिंग लेकर आये 2 आतंकियों समेत 6 लोगों को गिरफ्तार भी किया है. ये गिरफ्तारियां यूपी, महाराष्ट्र और दिल्ली से हुई हैं. स्पेशल सेल के स्पेशल सीपी नीरज ठाकुर ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया, 'हमने 6 आतंकियों को गिरफ्तार किया है जिनमें से 2 पाक से ट्रेनिंग लेकर वापस आए हैं. मल्टी स्टेट ऑपरेशन कर 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिनमें से 2 लोग इसी साल अभी पाकिस्तान से ट्रेनिंग लेकर आये हैं.' 

उन्होंने कहा कि खुफिया एजेंसियों से इस मोड्यूल के बारे में जानकारी मिली थी. जांच में पता चला कि इनका नेटवर्क कई राज्यों में फैला है. सुबह रेड की, महाराष्ट्र का रहने वाला एक आतंकी कोटा से गिरफ्तार किया गया. वहीं 3 लोग यूपी एटीएस की मदद से पकड़े गए जबकि 2 दिल्ली से पकड़े गए. 2 लोग इनमें से मस्कट गए पहले फिर वहां बोट से इन्हें पाकिस्तान ले जाया गया.

 पुलिस के अनुसार गिरफ्तार लोगों बताया कि इनके साथ 14 लोग बंगला बोलने वाले थे. इन्हें एक फार्म हाउस में 15 दिनों तक हथियारों की ट्रेनिंग दी गयी. अनीस इब्राहिम एक टीम को लीड कर रहा था, फंडिंग का काम था इनका, लाला जो पकड़ा गया है वो अंडर वर्ल्ड का आदमी है. 

स्पेशल सीपी ने बताया कि आतंकियों ने 2 टीम बनाई थी. दूसरी टीम का काम इंडिया में फेस्टिवल के मौके पर देश भर में ब्लास्ट के लिए शहरों को चिन्हित करना था. हमे इनपुट मिला था जिसमें पता चला था कि भारत के कुछ हिस्सों में आतंकी घटनाएं होने वाली हैं. हमने टेक्निकल सर्विलांस के जरिये इसको कन्फर्म किया है कि ऐसी साजिश रची जा रही है. इनकी 2 टीम बनाई गई थी जिसको दाऊद इब्राहिम का भाई अनीस कोआर्डिनेट कर रहा था. हमें पाकिस्तान की ट्रेनिंग के बारे बहुत जानकारी मिली है जिसको हम सेंट्रल एजेंसी से भी शेयर करेंगे. Festival सीजन में जगह जगह ब्लास्ट करवाना इनकी मुख्य साजिश थी. ये लोग दिल्ली, उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र में बम ब्लास्ट करना चाहते थे. रामलीला और नवरात्रि के प्रोग्राम टारगेट पर थे.


गिरफ्तार लोगों के पास से बरामद हथ‍ियारों के बारे में पुलिस ने कहा, ''इटेलियन पिस्टल और IED फिटेड RDX बरामद हुआ है. इसमें ओसामा और जीशान पाकिस्तान ट्रेनिंग लेने गए थे. 2 यूनिट काम रही थी कर रही थी आतंकियों की. डी कंपनी का काम था लॉजिस्टिक मुहैया करवाना जैसे विस्फोटक और फंडिंग. इसके अलावा टेरर मोड्यूल का काम था आतंकियों को हथियार चलाने की ट्रेनिंग देना और हिन्दुस्तान में विस्फोट के लिए जगह चिन्हित करना.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* तालिबान जैसे खतरे से निपटने के लिए सुरक्षा बलों को दी जाएगी ट्रेनिंग
* कश्मीर और केरल में माहौल बिगाड़ने की साजिश रच रहा आईएसआईएस खुरासान मॉड्यूल : सूत्र