कश्मीर और केरल में माहौल बिगाड़ने की साजिश रच रहा आईएसआईएस खुरासान मॉड्यूल : सूत्र

ISIS मैगज़ीन और इंस्टाग्राम चैनल के जरिये घाटी में नौजवानों को बरगलाकर संगठन में भर्ती करने की फिराक में वो है. घाटी में आतंकी साजिश और भर्तियों ने आईएसआईएस खुरासान मॉड्यूल  (ISKP) को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई( ISI) की पूरी शह है.

नई दिल्ली:

आतंकी संगठन आईएसआईएस का खुरासान मॉड्यूल (ISIS-K) भारत में केरल और कश्मीर में माहौल बिगाड़ने की साचिश रच रहा है. सूत्रों का कहना है कि आतंकी संगठन की नापाक गतिविधियों के बारे में भनक लगी है. मिशन 'घाटी' के तहत आईएसआईएस का खुरासान मॉड्यूल केरल और कश्मीर में मौजूद स्लीपर सेल को एक्टिव करने में जुटा है.  मैगजीन 'वॉइस ऑफ हिन्द' के जरिये स्लीपर सेल को एक्टिव करने की साजिश रची गई है.  जुलाई और अगस्त में कश्मीर घाटी और केरल से पकड़े गए आतंकियों से पूछताछ में ये अहम खुलासा हुआ है.

ISIS मैगज़ीन और इंस्टाग्राम चैनल के जरिये घाटी में नौजवानों को बरगलाकर संगठन में भर्ती करने की फिराक में वो है. घाटी में आतंकी साजिश और भर्तियों ने आईएसआईएस खुरासान मॉड्यूल  (ISKP) को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई( ISI) की पूरी शह है. ISKP को हिंदुस्तान में फिर से जमीन तलाशने में मदद करने को आईएसआई तैयारी कर रही है.


खुरासान मॉड्यूल को हथियार और पैसे के अलावा तमाम तरह का साजोसामान मुहैया करवाने का ISI ने जिम्मा लिया है. काबुल में तालिबान के कब्जे के बाद बगराम जेल से रिहा हुए 14 संदिग्धों पर खुफिया एजेंसी की नजर है. ये सभी केरल के रहने वाले हैं और तहरीक-ए-तालिबान के इशारे पर दक्षिणी भारत में अपने मूल कैडर को फिर से उठाने की कोशिश में लगे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे औऱ नई सरकार के गठन के बाद ऐसी आशंका जताई जा रही है कि वहां भारत विरोधी आतंकवादी संगठनों को समर्थन मिल सकता है. पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी वहां आतंकियों के लिए ट्रेनिंग कैंप भी लगा सकती है. फिर उन्हें घाटी में भेजा जा सकता है. तालिबान के सत्ता में आने के बाद आईएसआईएस ने भी सिर उठाना शुरू कर दिया है.