दिल्‍ली सरकार का निर्णय, कोरोना टेस्‍ट कराने आए लोगों का ऑक्‍सीजन लेवल चेक करना भी होगा जरूरी

अगर किसी व्यक्ति का ऑक्‍सीजन saturation लेवल 94% से कम होता है तो उसे अनिवार्य रूप से डॉक्टर से परीक्षण कराने का परामर्श देना होगा. 

दिल्‍ली सरकार का निर्णय, कोरोना टेस्‍ट कराने आए लोगों का ऑक्‍सीजन लेवल चेक करना भी होगा जरूरी

कोरोना संक्रमण के केसों पर नियंत्रण के लिए दिल्‍ली सरकार ने अहम फैसला किया है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • कोरोना से होने वाली मौत कम करने के लिए लिया फैसला
  • दिल्ली सरकार की ओर से आदेश जारी कर दिया गया
  • सभी का ऑक्‍सीजन लेवल चेक करना और स्लिप में लिखना अनिवार्य
नई दिल्ली:

Corona Pandemic: दिल्ली में कोरोना (Corona cases in Delhi) से होने वाली मौत पर काबू पाने के लिये दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने अहम फैसला लिया है. अब दिल्ली के सभी सरकारी सैम्पल कलेक्शन सेंटर पर रैपिड एंटीजन टेस्ट और RT-PCR टेस्ट के लिये सैम्पल देने आए लोगों का ऑक्‍सीजन saturation लेवल चेक करना भी अनिवार्य होगा.इससे संबंधित आदेश दिल्ली सरकार की ओर से जारी कर दिया गया है जो तत्काल प्रभाव से लागू होगा. आदेश के मुताबिक दिल्ली सरकार के सभी रैपिड एंटीजन टेस्टिंग सेंटर्स और RT-PCR सैम्पल कलेक्शन सेंटर पर टेस्ट कराने या सैम्पल देने आये सभी लोगों का ऑक्‍सीजन saturation लेवल चेक करना और उसे OPD स्लिप में लिखना अनिवार्य होगा.

दवा कंपनी Pfizer ने कहा, शुरुआती नतीजों में कोरोना वैक्सीन 90 फीसदी से ज्यादा असरदार

अगर किसी व्यक्ति का ऑक्‍सीजन saturation लेवल 94% से कम होता है तो उसे अनिवार्य रूप से डॉक्टर से परीक्षण कराने का परामर्श देना होगा. दिल्ली सरकार का मानना है कि इसके जरिये मॉडरेट रिस्क वाले लोगों को चिन्हित कर सही समय पर उचित ट्रीटमेंट देकर उन्हें गंभीर स्थिति में जाने से रोकने में मदद मिलेगी, साथ ही मौतों को भी कम किया जा सकेगा.दिल्ली में अभी तक कोरोना से 7 हज़ार से ज़्यादा मौत हो चुकी हैं और पिछले 3 दिनों से लगातार 70 से ज्यादा कोरोना मरीज़ों की जान जा रही है.


प्राइम टाइम: दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर और भी खतरनाक

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com