रोहिणी में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, प्रधानमंत्री लोन योजना के नाम पर करते थे ठगी, 12 गिरफ्तार

रोहिणी जिले की साइबर सेल ने एक फर्जी कॉल सेंटर (Fake Call Center)  का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में 11 लड़कियों समेत 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

रोहिणी में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, प्रधानमंत्री लोन योजना के नाम पर करते थे ठगी, 12 गिरफ्तार

कम ब्याज दरों पर पर्सनल लोन देने के बहाने लोगों से ठगी करते थे.

नई दिल्ली:

रोहिणी (Rohini) जिले की साइबर सेल ने एक फर्जी कॉल सेंटर (Fake Call Centre)  का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में 11 लड़कियों समेत 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. ये सभी लोग प्रधानमंत्री लोन योजना के तहत बहुत कम ब्याज दर पर पर्सनल लोन दिलवाने के बहाने फोन करके निर्दाेष लोगों के साथ ठगी करते थे. रोहिणी के डीसीपी प्रणव तायल के मुताबिक एक सूचना मिली थी कि के बाद रोहिणी सेक्टर 6 में एक मकान की पहली मंजिल पर एक फर्जी कॉल सेंटर चल रहा है.

उन्होंने बताया कि 28 अगस्त को जाल बिछाकर इस कॉल सेंटर पर साइबर सेल और स्थानीय पुलिस ने छापेमारी की. उस वक्त एक लड़का और कुछ लड़कियां टेलीकॉलिंग करते पाए गए. पुलिस पार्टी को देखकर उन्होंने अपनी गतिविधियां रोक दीं और अपने मोबाइल फोन छिपाने की कोशिश की. 

इंडिगो एयरलाइंस में नौकरी दिलवाने का झांसा देकर करते थे ठगी, फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़


 पूछताछ करने पर पता चला कि वे प्रधानमंत्री लोन  योजना के तहत बहुत कम ब्याज दरों पर पर्सनल लोन देने के बहाने लोगों से ठगी करते थे. इसके अलावा यह पता चला कि वे निर्दाेष लोगों को आकर्षक ब्याज दरों पर लोन देने की भी पेशकश करने के लिए फोन करते थे. ये लोग लोन देने के लिए प्रोसेसिंग फीस लेते थे. फीस मिलते ही मोबाइल नंबर बंद कर देते थे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस तरह से इन लोगों ने महाराष्ट्र, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड और मध्य प्रदेश के लोगों से ठगी की. इनके पास से एक लैपटॉप, एक टैबलेट, 29 मोबाइल फोन, वाईफाई डोंगल, कुछ रजिस्टर और अन्य दस्तावेज जब्त किए गए हैं. इस कॉल सेंटर के मैनेजर दीपक सैनी के साथ सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर 10 सितंबर 2021 तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. हालांकि, कॉल सेंटर के मालिक को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है और उसे पकड़ने की कोशिश की जा रही है.