दिल्ली के द्वारका इलाके में एनकाउंटर, सुहेल नाम का बदमाश अरेस्ट

सुहेल की हत्या के मामले में पुलिस तलाश कर रही थी. उस पर करीब आधा दर्जन मामले दर्ज है. सुहेल के पैर में गोली लगी है. पुलिस को जवाबी कार्रवाई में फायरिंग करनी पड़ी.

दिल्ली के द्वारका इलाके में एनकाउंटर, सुहेल नाम का बदमाश अरेस्ट

दिल्ली के द्वारका में एनकाउंटर

नई दिल्ली:

दिल्ली के द्वारका में पुलिस ने एनकाउंटर के बाद सुहेल खान नाम के बदमाश को पकड़ा है. ये एनकाउंटर डाबड़ी इलाके में हुआ है. बता दें कि सुहेल की हत्या के मामले में पुलिस तलाश कर रही थी. उस पर करीब आधा दर्जन मामले दर्ज है. सुहेल के पैर में गोली लगी है. दरअसल, स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर नवीन कुमार की टीम पर फायरिंग हुई जिसके बाद  जवाबी कार्रवाई में सुहेल के पैर में गोली लगी है.  


बता दें कि द्वारका इलाके में ही कुछ दिन पहले दो महिलाओं की हत्या कर दी गई थी. दोनों ही हत्याओं में महिलाओं के परिचित शामिल थे.पहली घटना बिंदापुर इलाके में हुई थी, जहां एक 22 साल की लड़की डॉली की चाकू मारकर हत्या कर दी गई. आधी रात को यह लड़की अपने माता-पिता को यह कहकर घर से निकली कि वह बर्थडे का केक काटने के लिए अपने दोस्तों से मिलने जा रही है. वह आधी रात करीब 12 बजे चली गई, लेकिन दो घंटे बाद परिवार को सूचना मिली कि उसे चाकू मार दिया गया है और वह सड़क किनारे घायल अवस्था में पड़ी है. उसे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसकी मौत घोषित कर दी. उसे कई चोटें आई थीं और ज्यादा खून बहने के कारण उसकी मौत हो गई थी. पुलिस के मुताबिक, हत्या में 3 लोग शामिल थे जिनमें हिमांशु गाबा, मनीष और हिमांशु हैं.पुलिस के मुताबिक अंकित की डॉली से दोस्ती थी लेकिन पिछले कुछ महीनों से वह उसे अनदेखा कर रही थी जिसके कारण वह परेशान था और उसे दोस्ती जारी रखने के लिए मजबूर कर रहा था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं कुछ समय पहले द्वारका जिला पुलिस ने एनकाउंटर के बाद कुलदीप नाम के एक शार्प शूटर को गिरफ्तार किया था. पकड़ में आए बदमाश का नाम राहुल उर्फ कुलदीप कसाना था. पुलिस के मुताबिक कुलदीप कसाना जितेंद्र गोगी गैंग के लिए काम करता था. कुलदीप के खिलाफ कत्ल, अपहरण और लूट के कई मामले दर्ज थे.  पुलिस को पक्की जानकारी मिली थी कि कुलदीप कसाना एक सफेद रंग की स्कूटी से बमरोली रोड की तरफ से होता हुआ द्वारका जाएगा. मुखबिर के जरिए पुलिस को यह भी पता लगा कि कुलदीप कसाना हर वक्त अपने पास अवैध पिस्तौल रखता है. इसलिए पुलिस ने पूरी तैयारी के साथ बमरोली रोड के आसपास ट्रैप लगा दिया. एनकाउंटर के बाद कुलदीप को अरेस्ट कर लिया गया.