कोरोना पर काबू पाने में नाकाम हो रहे तीन राज्यों को केंद्र सरकार ने उनकी कमजोरियां बताईं

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और पंजाब को चिट्ठी लिखी, 50 सेंट्रल टीमें इन तीनों राज्यों में भेजी गईं

कोरोना पर काबू पाने में नाकाम हो रहे तीन राज्यों को केंद्र सरकार ने उनकी कमजोरियां बताईं

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

Coronavirus: केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और पंजाब को चिट्ठी लिखी है. जिलों में तैनात सेंट्रल टीम के मूल्यांकन के आधार पर यह पत्र लिखा गया है. केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस टेस्टिंग, कांटैक्ट ट्रेसिंग, कन्टेनमेंट ऑपरेशन, हॉस्पिटल इन्फ्रास्ट्रक्चर की उपलब्धता को लेकर कमियों पर सवाल खड़े किए हैं. इन तीन राज्यों के अलग-अलग जिलों में समस्याएं अलग-अलग हैं. कहीं सवाल कन्टेनमेंट जोन को लेकर है तो कहीं टेस्टिंग को लेकर, या फिर कहीं अस्पताल के इन्फ्रास्ट्रक्चर को लेकर सवाल खड़ा किए गए हैं.

राज्यों में कोरोना से निपटने में राज्य सरकारों की कमियों को लेकर उन्हें चिट्ठी लिखी गई है. महाराष्ट्र, पंजाब और छत्तीसगढ़ को केंद्र ने चिट्ठी लिखी है. 50 सेंट्रल टीम इन तीनों राज्यों में भेजी गई हैं.


महाराष्ट्र के तीस जिलों में सेंट्रल टीम, छत्तीसगढ़ में 11 और पंजाब में 9 सेंट्रल टीमें कोरोना से बिगड़ते जमीनी हालात पर काबू पाने और सुझाव देने के लिए भेजी गई हैं. यह सेंट्रल टीमें हर डिस्ट्रिक्ट में दो लोगों की हैं जो रोजाना मिनिस्ट्री द्वारा नियुक्त अलग-अलग राज्यों के लिए नियुक्त नोडल ऑफिसर को भेजती हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अब स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन तीनों राज्यों से आई रिपोर्टों को लेकर कोरोना पर काबू पाने में जिलों का नाम उजागर करके कमियों का जिक्र किया है जिससे कि सुधार लाया जा सके.