दिल्ली : कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड मौत, दर्ज किए गए 20,201 नए मामले

पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के 20,201 नए मामले सामने आए, लेकिन पॉजिटिविटी रेट फिर भी 35% से ऊपर है. आज अप्रैल महीने के सबसे कम टेस्ट रिपोर्ट हुए, इसलिए संक्रमण के मामले कम जरूर हैं लेकिन पॉजिटिव रेट ज्यादा है.

दिल्ली : कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड मौत, दर्ज किए गए 20,201 नए मामले

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

देश की राजधानी दिल्ली में एक बार फिर पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड मौत दर्ज हुई हैं. पिछले 24 घंटे में 380 मरीजों की मौत कोरोना वायरस से हुई है. यह आंकड़ा अब तक का सबसे ज्यादा है. इसके साथ ही पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के 20,201 नए मामले सामने आए, लेकिन पॉजिटिविटी रेट फिर भी 35% से ऊपर है. आज अप्रैल महीने के सबसे कम टेस्ट रिपोर्ट हुए, इसलिए संक्रमण के मामले कम जरूर हैं लेकिन पॉजिटिव रेट ज्यादा है. रिकवरी 89.79% और डेथ रेट 1.40% है. 

दिल्ली में अब तक कुल मामले 10,47,916 हो चुके हैं. वहीं, पिछले 24 घंटे में 22,055 मरीज ठीक हुए हैं. अब तक कुल ठीक हुए मरीजों की संख्या की बात करें तो यह आंकड़ा 9,40,930 हो गया है. पिछले 24 घंटे में हुई 380 मौत समेत दिल्ली में अब तक कोरोना से 14,628 लोग जांव गंवा चुके हैं. वहीं, अभी यहां पर कुल एक्टिव मामले 92,358 हैं.

कोरोना संकट के बीच पीएम मोदी और US राष्ट्रपति जो बाइडेन ने की फोन पर बातचीत

वहीं, एक अन्य खबर के मुताबिक, दिल्ली में मध्यम और गंभीर लक्षण वाले मरीजों की RT-PCR टेस्ट में कोरोना वायरस की निगेटिव रिपोर्ट आने के बावजूद अस्पतालों को उन्हें इलाज के एडमिट करना होगा. दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने एक आदेश जारी करके कहा है कि विभाग को यह जानकारी मिल रही थी कि कई मरीज़ जिनमें इन्फ्लूएंजा लाइक इलनेस के मध्यम और गंभीर लक्षण हैं लेकिन उनकी RT-PCR रिपोर्ट निगेटिव है. वे हॉस्पिटल पहुंच रहे हैं, लेकिन हॉस्पिटल उन्हें पॉजिटिव RT-PCR रिपोर्ट न होने के चलते एडमिट नहीं कर रहे हैं. 

बिहार में कोरोना के 11801 नए मामले सामने आए, ऑक्सीजन की किल्लत

ऐसे में सभी अस्पतालों को ये निर्देश दिया गया है कि इन्फ्लूएंजा लाइक इलनेस (ILI) के मध्यम और गंभीर लक्षण वाले मरीजों को प्रोटोकॉल के तहत संदिग्ध केस के लिए बने डेडिकेटेड एरिया में ट्रीटमेंट दिया जाएगा. मेडिकल सहायता की ज़रूरत वाले किसी भी मरीज़ को ट्रीटमेंट के लिए मना नहीं किया जा सकता.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोविड में लूट, दिल्ली-एनसीआर में एंबुलेंस वालों की मनमानी