महाराष्ट्र में कोरोना के मामलों पर काबू नहीं किया तो देश के अन्य राज्य भी आ सकते हैं चपेट में : अधिकारी

महाराष्ट्र में स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि इसे कोरोना की दूसरी लहर कहना कठिन है, लेकिन विदर्भ में मामले लगाातार बढ़ रहे हैं.

महाराष्ट्र में कोरोना के मामलों पर काबू नहीं किया तो देश के अन्य राज्य भी आ सकते हैं चपेट में : अधिकारी

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं....

महाराष्ट्र (Maharashtra)के विदर्भ क्षेत्र में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले बढ़े रहे हैं और यहां से यह संक्रामक रोग पुणे और मुम्बई जैसे अन्य इलाकों में भी फैल रहा है. कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने के लिए महाराष्ट्र सरकार के तकनीकी सलाहकार डॉ. सुभाष सालुंके ने बुधवार रात पत्रकारों को बताया कि अगर इसे नियंत्रित नहीं किया गया, तो यह देश के अन्य राज्यों में भी फैल सकता है.

अधिकारी ने मंगलवार को ही कोविड-19 का टीका लगवाया था. उन्होंने कहा कि जहां तक टीकाकरण की बात है, राज्य इससे बेहतर कर सकता था. स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि बुधवार को भी जारी रही और राज्य में करीब चार महीने बाद एक दिन में आठ हजार से अधिक नये मामले सामने आये थे.

महाराष्ट्र के वाशिम जिले के एक होस्टल में मिले 190 कोरोना संक्रमित छात्र, प्रशासन सतर्क


आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, राज्य में अभी तक वायरस के कुल 21,21,119 मामले सामने आए हैं. अधिकारी ने कहा, ‘‘ इसे दूसरी लहर कहना कठिन होगा, लेकिन विदर्भ में वायरस के मामले बढ़ रहे हैं....''उन्होंने बताया कि अब यह पुणे और मुम्बई जैसे अन्य जिलों में भी फैल रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा, ‘‘ अगर इसे (महामारी को) नियंत्रित नहीं किया गया तो यह देश के अन्य राज्यों में भी फैल जाएगा. इसका प्रसार पूर्ण रूप से होगा इसे लेकर पक्के तौर पर तो कोई नहीं कह सकता, लेकिन इसमें प्रसार की क्षमता जरूर है.'' महाराष्ट्र में कोविड-19 के टीकाकरण के बारे सवाल किए जाने पर उन्होंने कहा कि राज्य इससे बेहतर कर सकता था. राज्य में अभी तक कुल 10,80,675 लोगों को टीके लग चुके हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)